अब थाने से भी पहले राजभवन में करेंगी बेटियां छेड़छाड़ की शिकायत- राज्यपाल

अब थाने से भी पहले राजभवन में करेंगी बेटियां छेड़छाड़ की शिकायत- राज्यपाल

14th June 2018 0 By Bibhav Kumar

राज्यपाल सत्यपाल मलिक छात्र संवाद कार्यक्रम में शामिल हुए.
बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा है कि अगर कॉलेज की छात्राओं और सूबे की महिलाओं और लड़कियों से छेड़छाड़ होता है तो वह सीधे राजभवन में शिकायत कर सकती हैं.
पटनाः बिहार के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा है कि अगर कॉलेज की छात्राओं और सूबे की महिलाओं और लड़कियों से छेड़छाड़ होता है तो वह सीधे राजभवन में शिकायत कर सकती हैं. राज्यपाल ने कहा पुलिस के पास भी जाने से पहले छेड़खानी की शिकायत राजभवन में होगी. राजभवन में 24 घंटे में किसी भी समय महिलाएं फोन कर शिकायत कर सकती हैं.

पटना में आयोजित छात्र संवाद कार्यक्रम के दौरान राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने राजभवन में छेड़छाड़ की शिकायत करने की बात कही. संवाद कार्यक्रम में संबोधन करते हुए राज्यपाल ने कहा राजभवन में कुछ अधिकारियों को महिलाओं की सहायता के लिए नियुक्त किया गया है.

राजभवन के यह अधिकारी शिकायत करने वाली महिलाओं के साथ खुद जाकर थाने में जाकर एफआईआर दर्ज करायेंगे. राजभवन में इसके लिए अलग से टेलीफोन भी लगाये जा रहे हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि अब कॉलेजों के हर क्लास रूम में सीसीटीवी कैमरे लगाये जाएगे. छात्रों के साथ-साथ शिक्षक भी अब राजभवन की नजर में रहेंगे. शिक्षक पढ़ा रहे हैं या नहीं वह सीधे राजभवन की निगरानी में रहेंगे.

राज्यपाल ने कहा कि यह सारी व्यवस्थाएं एक साल में पूरी हो जाएगी. शिक्षकों को अब बायोमिट्रिक मशीन में हाजिरी लगानी होगी.

छात्र संवाद के आयोजन में उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी भी अतिथि के तौर पर मौजूद थे. उन्होंने छात्रों से कहा देश को इमानदार नेता की जरूरत है. क्यों कि आज नेता राजनीति को केवल धनार्जन का जरिया समझते हैं. ऐसे नेताओं की जरूरत देश को नहीं है.

Advertisements