Bihar State TOP NEWS Weather

आंध्र में 8 की मौत, ओडिशा में 3 लाख लोगों को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया

विशाखापट्टनम. बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवाती तूफान आज सुबह करीब पांच बजे ओडिशा में गंजाम जिले के गोपालपुर के तट से टकराकर आगे बढ़ गया। पूर्वी तटों के करीब रहने वाले 3 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया गया। आंध्र के श्रीकाकुलम और विजयनगरम में तूफान के चलते 8 लोगों की मौत हो गई।

ओडिशा के ज्यादातर इलाकों में भारी बारिश हुई। संचार व्यवस्था, सड़कों और घरों को नुकसान पहुंचा है। गंगाम, खुर्दा, पुरी, जगतसिंहपुर, गजपति केंद्रापाड़ा, भद्रक और बालासोर में तूफान का सबसे ज्यादा असर देखा गया। यहां मूसलाधार बारिश हुई। यहां अगले कुछ घंटों में 165 किलोमीटर/घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है। उधर, आंध्र के श्रीकाकुलम और विजयनगर में तूफान का ज्यादा असर देखा गया। यहां पेड़ उखड़ गए और कई जगहों पर सड़कें बाधित हो गईं। जानमाल का नुकसान हुआ। प्रभावित इलाकों में तुरंत मदद के लिए एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें तैनात हैं।

तितली को अति गंभीर चक्रवाती तूफान की श्रेणी में रखा गया। भारी बारिश के चेतावनी के बाद ओडिशा सरकार ने पांच तटीय जिलों के निचले इलाके पहले ही खाली करा लिए।

श्रीकाकुलम में तूफान से आई तेज बारिश

यह तूफान 280 किलोमीटर दूर बंगाल की खाड़ी में उठा था। इसके असर से 12 अक्टूबर तक पूरे ओडिशा में भारी बारिश की आशंका जताई गई।

ओडिशा के तूफान प्रभावित जिलों से गुजरने वाली ट्रेनें या तो रद्द कर दी गई हैं या फिर उनका रूट बदल दिया गया है।

150 किलोमीटर/घंटा की रफ्तार से चल रहीं हवाएं
मौसम विभाग ने बुधवार को चेतावनी जारी की थी कि गुरुवार को ओडिशा के गोपालपुर, आंध्र के कलिंगापट्टनम में आंधी-तूफान की आशंका है। तितली का असर पश्चिम बंगाल और बिहार के कुछ इलाकों में भी देखने को मिलेगा।
ओडिशा के सभी जिलों में हाईअलर्ट
ओडिशा के मुख्य सचिव आदित्य प्रसाद ने बताया कि तटीय क्षेत्र के पांच जिलों गंजम, पुरी, खुर्दा, केंद्रपाड़ा और जगतसिंहपुर में निचले इलाके खाली कराए हैं। गजपति, नयागढ़, कटक, जयपुर, भद्रक, बालासोर, कंधमाल, बौध और ढेकानाल में तेज हवाएं चल रही हैं। कुछ जगहों पर जोरदार बारिश भी हो रही है।
ओडिशा सरकार ने राज्य के सभी जिलाधिकारियों को अलर्ट भेजा है। इस दौरान सभी अफसरों की छुट्टियां भी रद्द कर दी गई हैं। राज्य में 11 और 12 अक्टूबर को सभी स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। उधर, तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक में दक्षिण-पूर्वी मानसून भी सक्रिय हो गया है।
अरब सागर में लुबान तूफान सक्रिय
अरब सागर में लुबान तूफान का असर देखा जा रहा है। मौसम विभाग ने कहा कि केरल, कर्नाटक और लक्षदीप के तटीय इलाकों में भारी बारिश के आसार हैं। मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *