Advertisements

आरा-नोट छापने की मशीन और 30 हजार के जाली नोट के साथ 5 गिरफ्तार

संदेश थाना क्षेत्र के जमुआंव गांव में एक घर में बुधवार की देर रात जाली नोट छापते एक ही परिवार के 5 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए लोगों में एक झोलाछाप डॉक्टर नागेंद्र सिंह भी है। वह जेल में बंद अपराधी राहुल सिंह का पिता है।

राहुल के इशारे पर उसकी पत्नी देवंती देवी, बड़ी बहू रेखा देवी, छोटी बहू नेहा देवी तथा राहुल के दोस्त गुड्डू कुमार के साथ मिलकर नोट छाप रही थी। गुरुवार को पटना के पिंटू सिंह को छह हजार असली नोट के बदले 30 हजार के जाली नोट की डिलीवरी देनी थी। इसको लेकर बुधवार की रात सभी लोग नोट छपाई में लगे थे। इसी दौरान पुलिस ने सभी को गिरफ्तार किया। 30 हजार रुपए के नकली नोट, दो प्रिंटर मशीन, तार प्रिंटर का तीन पैकेट इंक बरामद हुए हैं।

 

पकड़े गए तस्कर 70/30 के अनुपात में नकली नोटों की डील करते थे। पूरे गैंग का संचालन पिंटू सिंह एवं आरा जेल में बंद राहुल सिंह कर रहा था। राहुल सिंह इस धंधे में किसी और को शामिल नहीं कर रहा था। उसे पता था कि बात लीक होने पर वह नहीं बच पाएगा। पिंटू सिंह एवं राहुल सिंह में सौदा तय हुआ था इसके बाद पिंटू सिंह ने मैटेरियल और प्रिंटर उपलब्ध कराया। इसमें पिंटू सिंह को 70 प्रतिशत आैर छापने वाले को 30 प्रतिशत पैसा मिलता था। अब तक लगभग 5 लाख रुपए तक धंधेबाज सप्लाई भी दे चुके हैं। बीती रात उन्होंने पिंटू सिंह को आरा में 30 हजार रुपया सप्लाई भी दिया था।

 

लूटकांड मामले में आरा जेल में बंद बेटे राहुल सिंह के आदेश पर पूरा परिवार व उसके दोस्त नोट छपाई करने में व्यस्त थे। इसी दौरान एसपी आदित्य कुमार की ओर से गठित टीम ने जाली नोट छापते नागेंद्र सिंह, पत्नी देवंती देवी, राहुल की पत्नी  नेहा देवी एवं भौजाई के साथ जेल से 5 दिन पहले छूटे दोस्त को गिरफ्तार कर लिया। छापेमारी के वक्त सभी मिलकर रात में 500,100, 200 रुपए का नोट छापने में लगे हुए थे। नोट छपाई में शामिल पटना के पिंटू सिंह को 60 हजार रुपए की सप्लाई देनी थी। इसके लिए लगभग 32 हजार रुपए की छपाई की जा चुकी थी।

 

छापेमारी के दौरान नागेंद्र सिंह के घर से 33 हजार रुपए भी बरामद किया। जिसमें 30 हजार रुपया का जाली नोट तथा तीन हजार रुपया का असली नोट था। इस मामले में गुरुवार की शाम सदर एसडीपीओ ने प्रेस-वार्ता किया। कहा कि एसपी के आदेश पर संदेश थाने के थानाध्यक्ष सुदेह कुमार के साथ जमुआंव गांव में नागेंद्र सिंह के घर छापेमारी की गई। घर के दक्षिण-पूरब के कमरे से जाली नोट सप्लाई करने वाले प्रिंटर एवं जाली नोट के साथ कुल 5 अभियुक्तों को दबोचा गया। पुलिस मास्टरमाइंड पटना के पिंटू सिंह की तलाश कर रही है।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *