भारतीय अतंरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) बुधवार को एक साथ 104 उपग्रहों को कक्षा में स्थापित कर एक नया इतिहास रचेगा। इसके लिए 28 घंटे की उल्टी गिनती मंगलवार सुबह करीब साढे पांच बजे चेन्नई से 125 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा में शुरू हुई।

इसरो ने मंगलवार को बताया कि पीएसएलवी-सी 37 कार्टोसेट-2 सीरीज के उपग्रह मिशन के प्रक्षेपण के लिए उलटी गिनती सुबह 5:28 बजे शुरू हुई। इससे ठीक पहले मिशन रेडीनेस रिव्यू कमेटी एंड लांच ऑथोराइजेशन बोर्ड ने प्रक्षेपण की मंजूरी दी थी। संगठन के मुताबिक, वैज्ञानिकों ने रॉकेट के प्रोपेलैंट को भरना शुरू कर दिया है।
रूस के पास सबसे अधिक उपग्रह छोड़ने का रिकॉर्ड: अब तक रूस के पास एक साथ सबसे अधिक उपग्रह छोड़ने का रिकॉर्ड है। उसने 37 उपग्रहों को एक साथ प्रक्षेपित कर यह मुकाम हासिल किया था। इसरो भी जून 2015 में एक साथ 23 उपग्रह प्रक्षेपित कर अपनी काबलियत साबित कर चुका है।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *