Crime NATIONAL

एम्स में 6 महीने से घूम रहा फर्जी डॉक्टर गिरफ्तार, दवाइयों की ‘नॉलेज’ देख पुलिस भी हैरान

दिल्ली पुलिस ने 19 साल के एक ऐसे फर्जी डॉक्टर को गिरफ्तार किया है जो खुद को एम्स का डॉक्टर बताता था। उसका नाम अदनान खुर्रम था लेकिन वह अपना नाम खुर्शीद बताता था। अदनान बिहार का रहने वाला है। हैरानी वाली बात ये है कि उसका पिछले 6 महीने से एम्स में आना जाना था लेकिन किसी की पकड़े में नहीं आया। वो एम्स के डॉक्टरों की डायरी लेकर घूमता था। उसने एम्स के कई डॉक्टरों से काफी जान पहचान भी बनाई। आरोपी ने फर्जी डॉक्टर बनकर कई लोगों का इलाज़ भी कराया।

 

पुलिस ने जब इस फर्जी डॉक्टर को पकड़ा तो वह भी उसकी जानकारी जानकर दंग रह गई क्योंकि उसकी दवाईयों और डॉक्टरों के नामों की काफी बढि़या जानकारी थी। पुलिस ने कहा कि यह बात अभी तक क्लियर नहीं हो पाई है कि फर्जी डॉक्टर को यह सब क्यों करना पड़ा। एक तरफ तो वह कह रहा है कि उसने यह सब एक गरीब परिवार की मदद करने के लिए किया है वही दूसरी तरफ वो यह भी कह रहा था कि उसको डॉक्टरों के साथ समय बिताना पसंद है और उन्हीं की तरह बनना चाह रहा है।

पुलिस के मुताबिक उसको शनिवार को गिरफ्तार किया गया था और उस पर धारा 419 और 468 दायर की गई है। डॉक्टरों के मुताबिक आरोपी युवक को अस्पताल में कोट पहनना और स्टेथोस्कोप पहनना पसंद है।

 

बता दें कि 19 साल के इस आरोपी की बहन भी एम्स में भर्ती है और उसका ब्लड कैंसर का इलाज चल रहा है। बहन को ज्यादा मदद मिले इसलिए उसको फर्जी डॉक्टर बनने का आईडिया आया था। मिली जानकारी के मुताबिक वह बिहार के पूर्वी चंपारण का रहने वाला है और दिल्ली में बटला हाउस इलाके में रहता था। पुलिस के मुताबिक खुर्रम पर कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *