गोशाला बचाओ संघर्ष समिति ने सदर एसडीओ का रास्ता राेका, पुलिस ने तीन को लिया हिरासत में, बांड पर छूटे 

गोशाला बचाओ संघर्ष समिति ने सदर एसडीओ का रास्ता राेका, पुलिस ने तीन को लिया हिरासत में, बांड पर छूटे 

10th January 2019 0 By Kumar Aditya

 

एसडीओ ने करीब एक घंटे की बैठक, फिर गोशाला का किया निरीक्षण, सदस्यों को दिए कई निर्देश

 

गोशाला प्रबंधन समिति की बैठक में शामिल होने से पहले ही गोशाला  बचाओ संघर्ष समिति से एसडीओ  की तनातनी हो गई। संघर्ष समिति  के सदस्यों ने बुधवार की शाम  चार बजे बैठक में शामिल होने  गोशाला परिसर पहुंचे सदर एसडीओ  आशीष नारायण का रास्ता रोकने की  कोशिश भी की। कुछ सदस्य गोशाला  मेन गेट पर चौकी लगाकर बैठ गए।  जब एसडीओ ने सभी से गेट से  हटने के लिए कहा तो एसडीओ को  ही सभी छोटे वाले दरवाजे से जाने  को कहने लगे। इसपर तनातनी हो  गई। संघर्ष समिति के सदस्यों के  इस व्यवहार से एसडीओ गुस्सा गए। उन्होंने तत्काल कार्रवाई करते  हुए सभी को हिरासत में लेने का  आदेश पुलिस को दिया। मौके पर मौजूद तातारपुर पुलिस ने दरवाजे से  सभी को हटाकर खाली करवाया।

वहीं तीनों को हिरासत में लेकर थाने ले गई। हालांकि, देर शाम एसडीओ  के आदेश पर हिरासत में लिए गए  अभिजित गुप्ता, अजय कनोडिया  व रणबीर शर्मा को बांड भरवा कर पुलिस छोड़ दिया।

टेलीफोन बिल पर घेरा, 250 से 300 रुपए बिल फिक्स करने का निर्देश

टेलीफोन के 14 हजार के सालाना बिल पर एसडीओ ने पूछा कि जब हर सदस्य के पास मोबाइल है तो इतना ज्यादा बिल कैसे आ रहा है। उन्होंने समिति के सचिव को 250 से 300 रुपए का बिल फिक्स कराने का आदेश  दिया है। एसडीओ ने सरकारी ऑडिट को लेकर भी सवाल किए। अगली बैठक में सीए को भी उपस्थित रहने  को कहा गया है। गोशाला के लिए किए जाने वाले हर खरीद के वाउचर को मेंटेन करने का भी आदेश दिया।  वोटर लिस्ट बनाने को कहा, हरेक 15 तारीख को होगी समिति की मीटिंग  बैठक में गोशाला प्रबंधन समिति के चुनाव पर भी चर्चा की गई। चुनाव के लिए वोटर लिस्ट तैयार करने का भी  आदेश दिया। उन्होंने समिति के सदस्यों को हर माह के 15 तारीख को समिति की बैठक में उपस्थित रहने को  कहा। एसडीओ ने जनवरी व जून महीने में एनुअल जनरल मीटिंग (एजीएम) कराने का भी आदेश दिया है।

इस दौरान एसडीओ ने 8 दिसंबर के बैठक में दिए गए आदेश की भी समीक्षा की। उन्होंने एक बार फिर हर गाय का अलग रिकार्ड रखने का आदेश दिया है। इसमें गाय की उम्र, वजन, पंजीयन के वक्त बीमारी को दर्ज कर इसे अपडेट रखने का आदेश दिया गया है। बताया गया कि गोशाला बचाओ संघर्ष समिति के लोग के मनमानी  के कारण गोबर उठाने व गाय को चारा पहुंचाने वाली गाड़ी अंदर प्रवेश नहीं कर पाती है।

गोशाला के निरीक्षण के दौरान एसडीओ ने कहा- प्लास्टिक के पर्दे लगवाएं  एक घंटे की बैठक के बाद  एसडीओ ने गोशाला परिसर का निरीक्षण किया। गायों के  आसपास फैली गंदगी पर उन्होंने  सवाल खड़ा किए। समिति की  ओर से बताया गया कि ठंड  के कारण पानी से सफाई नहीं  की जा रही है। उन्होंने गाय को  ठंड व पानी से बचाने के लिए  शनिवार तक प्लास्टिक के पर्दे  लगाने व बीमार गर्भवती गायों  के लिए हीटर लगाने को कहा।  डॉक्टर की टीम को उन्होंने मृत गाय के पोस्टमार्टम का निर्देश  दिया। प्रबंधन समिति के दो  सदस्य को डीएओ से मिलकर वर्मी कंपोस्ट के निर्माण के काम  को आगे बढ़ाने का भी आदेश  दिया। बैठक में सत्यनारायण  पोद्दार, राम गोपाल पोद्दार,  सज्जन किशोरपुरिया, विजय झुनझुनवाला, गिरधर मावंडिया,  शिव कुमार केडिया, पशु  चिकित्सक जी.के झा  आदि मौजूद थे।

कामकाज की समीक्षा के बाद बनाई तीन नई कमेटी

गोशाला प्रबंधन समिति की बैठक में एसडीओ ने एक घंटे तक गोशाला के  कामकाज की समीक्षा की। गोशाला  को सुचारू रूप से चलाने के लिए  एसडीओ ने तीन नए कमेटी के गठन  का आदेश दिया। दवा, चारा व अन्य  वस्तु की खरीद व मेंटेनेंस के लिए  कमेटी बनाई जाएगी। तीन सदस्यीय समिति बाजार में चारे के दाम का  विश्लेषण करेगी। सबसे कम रेट पर चारा उपलब्ध कराने वाले विक्रेता से  ही चारा खरीदा जाएगा।

Advertisements