तेज बारिश के बीच पारण परेड में 672 कारा कक्षपालों ने कर्तव्यनिष्ठा की ली शपथ

तेज बारिश के बीच पारण परेड में 672 कारा कक्षपालों ने कर्तव्यनिष्ठा की ली शपथ

12th October 2018 0 By Deepak Kumar

भागलपुर के नाथनगर स्थित सीटीएस में सूबे के 672 कारा कक्षपालों की ट्रेनिंग समाप्त हो गयी। तेज बारिश में वर्दीधारी कक्षपालों ने परेड के बाद कर्तव्यनिष्ठता की शपथ ली।
सीटीएस (सिपाही प्रशिक्षण केंद्र) नाथनगर में गुरुवार को सुबह 9:45 बजे आयोजित पारण परेड के मुख्य अतिथि जोनल आईजी और सीटीएस की प्राचार्य स्वप्ना मेश्राम ने खुली जीप में परेड का निरीक्षण किया। इसके बाद कारा कक्षपालों ने आईजी को गार्ड ऑफ ऑनर दिया। परेड के बाद सीटीएस प्राचार्य स्वप्ना मेश्राम ने सभी कक्षपालों को कर्तव्यनिष्ठता की शपथ दिलाई।
पारण परेड के दौरान जोनल आईजी सुशील मानसिंह खोपड़े ने कक्षपालों को संबोधित करते हुए कहा कि आप ड्यूटी पर होते हैं तो सरकार का प्रतिनिधित्व कर रहे होते हैं। आपकी पहचान वर्दी है इसकी गरिमा हमेशा बरकरार रखें ताकि जेल में बंद कैदियों को भी सुधरने का मौका मिले।

उन्होंने कहा कि तेज बारिश में जिस तरह से कक्षपालों ने परेड किया यह काबिले तारीफ है। सीटीएस में 14 मई 2018 से चल रही सूबे के 672 कारा कक्षपालों की ट्रेनिंग समाप्त हो गयी है। इन्हें अब एक माह के लिए व्यावहारिक ट्रेनिंग केंद्रीय कारा में पोस्टिंग के बाद दी जाएगी।
इन्हें मिला सम्मान
परेड कमांडर सतीश कुमार, द्वितीय परेड कमांडर कुंदन कुमार चौहान, प्लाटून कमांडर अमरेंद्र कुमार, प्लाटून कमांडर चंदन कुमार, प्लाटून कमांडर सतेंद्र कुमार, प्लाटून कमांडर चंदन कुमार 2, सोनू कुमार, सनोज कुमार, रोहित कुमार, अजय कुमार ठाकुर। अन्य पुरस्कृत होने वाले कक्षपालों को सीटीएस प्रबंधन द्वारा सम्मानित किया गया। मौके पर असिस्टेंट जेलर राकेश कुमार सिन्हा, केंद्रीय कारा जेल सुपरिटेंडेंट अभिमन्यु चौधरी, इंस्पेक्टर रामविलास यादव, नागेश्वर सिंह, बिहार पुलिस एकेडमी के डीएसपी जे अंसारी, ग्रीश कुमार आदि उपस्थित थे।
सीटीएस में ली गयी ट्रेनिंग यादगार
परेड की समाप्ति के बाद कक्षपालों ने कहा कि यहां ली गयी ट्रेनिंग हमारे जीवन के यादगार पल हैं। पटना से आये मंडल कारा समस्तीपुर में पोस्टेड अरविंद कुमार ने बताया कि ट्रेनिंग पूरी कर अब एक सफल पुलिस कर्मी बने हैं। समस्तीपुर से आये मधुबनी कारा में पदस्थापित जवान मंटुन मुखिया ने बताया कि आईजी से सम्मान पाकर खुशी मिली है। गया जिले के मुन्ना कुमार ने बताया कि देश हित के लिए सदैव अपने कामों को कर्मठता से करेंगे। बेतिया से आये बेस्ट अवार्ड पाए सतीष कुमार ने बताया कि यहां एक सच्चा देश का सिपाही बनने का मौका मिला। जहानाबाद से आये सुनील कुमार ने कहा कि कठिन परिश्रम कर नौकरी प्राप्त की है।

Advertisements