नाथनगर उपद्रव मामले में जेल में बंद चार आरोपियों ने सोमवार को प्रभारी जिला जज के कोर्ट में नियमित जमानत की अर्जी दाखिल की। अर्जी पर मंगलवार को सुनवाई होगी।

 

आरोपियों में विजय मंडल उर्फ बब्लू मंडल, मो. शमी अंसारी, मो. सोनू और मो. शाहा आलम शामिल हैं। नाथनगर के मेदनीनगर में 17 मार्च, 018 को दो पक्षों में हुए उपद्रव को लेकर पुलिस ने दो अलग-अलग एफआईआर दर्ज की थी। दोनों मामलों में कुल 21 लोगों को नामजद आरोपी बनाया गया था।

 

पुलिस ने घटना के बाद जुलूस में डीजे बजाने वाले जगदीशपुर के मुखेरिया गांव के विजय मंडल उर्फ बब्लू को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने 23 मार्च को अप्राथमिकी आरोपी बनाकर बब्लू मंडल को जेल भेज दिया था। एसीजेएम कोर्ट से जमानत अर्जी खारिज होने के बाद बब्लू ने सोमवार को जिला जज के कोर्ट में नियमित जमानत की अर्जी दाखिल की है। मंगलवार को प्रभारी जिला जज के कोर्ट में सुनवाई होगी।

 

 

एक अन्य आरोपी मो. सोनू ने 5 अप्रैल को एसीजेएम कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया था और मो. शमी अंसारी व मो. शाह आलम ने 7 अप्रैल को आत्मसमर्पण किया था। कोर्ट ने उसी दिन जमानत अर्जी खारिज कर दी थी। सोमवार को तीनों आरोपियों की ओर से अधिवक्ता अंजनी कुमार ने प्रभारी जिला जज के कोर्ट में अग्रिम जमानत की अर्जी दाखिल की। इस पर मंगलवार को सुनवाई होगी।

 

अनूपलाल की जमानत पर हुई सुनवाई, आदेश सुरक्षित जेल में बंद अनूपलाल साह की नियमित जमानत पर सोमवार को प्रभारी जिला जज कुमुद रंजन सिंह के कोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट ने आदेश सुरक्षित रख लिया है। आरोपी ने नाथनगर मामले में छह अप्रैल को एसीजेएम कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। इस केस में केन्द्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे के पुत्र अर्जित शाश्वत चौबे के साथ अनूपलाल समेत नौ लोगों को आरोपी बनाया गया था।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *