Bihar State TOP NEWS

पति की मौत से आहत पत्नी अस्पताल की छत से कूदी, मौत

पटना. पाटलिपुत्र थाना इलाका स्थित एक निजी नर्सिंग होम में पीलिया व लीवर की बीमारी से पीड़ित पति की मौत के बाद पत्नी ने उसी अस्पताल की छत से कूदकर जान दे दी। पति सनोज कुमार को डॉक्टरों ने गुरुवार की सुबह करीब 5 बजे मृत घोषित किया, उसके 10 मिनट बाद परेशान पत्नी प्रीति अस्पताल की छत पर गई और पीछे के हिस्से में कूदकर खुदकुशी कर ली। उसकी मौत मौके पर हो गई। 32 साल की प्रीति की मौत होने के बाद अस्पताल प्रशासन ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए पीएमसीएच भेज दिया।

सनोज मूल रूप से वैशाली के लालगंज निवासी राजेंद्र कुमार के छोटे बेटे थे। सनोज एमआर थे। उनकी शादी जमुई निवासी हाईस्कूल शिक्षक सत्यजीत की बड़ी बेटी प्रीति से 2009 में हुई थी। सनाेज व प्रीति को कोई औलाद नहीं था। सनोज पत्नी के साथ दुमका के कुम्हार पाड़ा में रह रहे थे। सनोज के पिता का निधन हो चुका है। उनकी मां व बड़े भाई लालगंज में ही रहते हैं।

17 सितंबर को चला था बीमारी का पता : 17 सितंबर को पता चला था कि सनोज को पीलिया है। उसके लीवर में गड़बड़ी है। उन्हें इलाज के लिए दुमका स्थित एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती किया गया। जब वहां उनके हालत में सुधार नहीं हुआ तो उनके ससुर, सास सुमिता देवी और पत्नी प्रीति पाटलिपुत्र काॅलोनी स्थित एक निजी नर्सिंग होम में लेकर 4 अक्टूबर को आ गए। यहां उनका इलाज चल रहा था। ससुर ने बताया कि सनोज का अचानक ब्लड शूगर बढ़ गया। गुरुवार की सुबह डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

परिजन रो रहे थे, पत्नी छत पर चली गई : अस्पताल में मौजूद दंपती के परिजनों ने बताया कि डॉक्टरों ने जब सनोज को मृत घोषित कर दिया, तब प्रीति आईसीयू से आई। सभी को पता चल गया था कि सनोज नहीं रहे। परिजन उनकी मौत पर रो रहे थे। करीब 10 मिनट तक पत्नी परिजनों के साथ थी।

वह दहाड़ मारकर रो रही थी। इस बीच वह मोबाइल पर बात करते चली गई। सुबह में सफाई होने की वजह से छत का गेट खुला था। अचानक अस्पताल के पिछले हिस्से से किसी के गिरने की आवाज आई। गार्ड, सफाईकर्मी, परिजन सभी उस तरफ दौड़े तो देखा कि प्रीति है। उसकी मौके पर ही मौत गई। लाश के पास ही उसका मोबाइल पड़ा था। शाम में दोनों का बांसघाट पर दाह-संस्कार कर दिया गया।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *