Advertisements

पाकिस्‍तान के इन शहरों में जहरीली हवा ने किया दिल्ली जैसा हाल, लोगों को हो रही दिक्कतें

पाकिस्तान के लाहौर और पंजाब क्षेत्र में वायु प्रदूषण का हाल बदतर हो गया है और जहरीली हवा के कारण लोगों का जीना दुश्वार हो रहा है। वायु प्रदूषण नियंत्रण की तमाम एजेंसियां हालात को सुधारने के लिए कड़े कदम उठा रही हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले दिनों में वायु प्रदूषण की समस्या और भीषण हो सकती है। लाहौर में गुरुवार को दर्ज की गई एयर क्वॉलिटी इंडेक्स की स्थिति 300 के पार थी। पाकिस्तान के मौसम विभाग ने अंदेशा जताया कि अगर शुष्क मौसम बरकरार रहता है तो लोगों के लिए खतरा बढ़ सकता है और लोगों को इससे बचने के उपाय करने का सुझाव दिया है। प्रमुख मौसम विशेषज्ञ मुहम्मद रियाज ने समा टीवी को दिए एक बयान में कहा कि हर वर्ष नवंबर दिसंबर में वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ता है। बारिश में देरी होने की स्थिति में यह बढ़ सकता है और हालात अधिक बदतर हो सकते हैं।
दिसंबर तक ‘स्मॉग सीजन’ घोषित
पाकिस्तान स्मॉग कमीशन ने 3 नवंबर और 31 दिसंबर तक के समय को ‘स्मॉग सीजन’ घोषित किया है। ईंट भट्ठियों और फैक्ट्रियों से निकलने वाले धुंओं से निपटने के लिए लाहौर हाई कोर्ट ने साल 2017 में स्मॉग कमीशन बनाया था।
इन कारणों से बढ़ रहा प्रदूषण
प्रधानमंत्री इमरान खान के पर्यावरण मामलों के सलाहकार मलिन अमीन असलम ने वायु प्रदूषण के लिए तीन प्रमुख कारणों को जिम्मेदार बताया है। इनमें पहला ईंट भट्ठों से निकलने वाला धुआं, दूसरे फैक्ट्रियों से निकल रहा खतरनाक धुआं और वाहनों की भारी तादाद शामिल है।

मामूली सुधार के बाद दिल्ली की हवा हुई ‘बेहद खराब’ AQI स्तर 394 दर्ज
327 ईंट भट्ठे बंद किए, 62 भट्ठा मालिकों पर एफआईआर
पर्यावरण मामलों के डिप्टी निदेशक जफर इकबाल ने शुक्रवार को कहा कि जिले में चल रहे 327 ईंट भट्ठों को वायु प्रदूषण बढ़ाने के कारण 31 दिसंबर तक बंद करने का आदेश दिया गया है। इन भट्ठों में वायु प्रदूषण रोकने की उचित व्यवस्था नहीं की गई थी। साथ ही जफर ने बताया कि 62 भट्ठा मालिकों के खिलाफ नियमों की अवहेलना करते हुए भट्ठों में काम जारी रखने पर एफआईआर दर्ज की गई है।
दिल्लीवालों को जल्द ही मिलेगी जहरीली हवा से राहत, होगी कृत्रिम बारिश

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *