प्रेमी ने दिया धोखा तो फांसी के फंदे से झूली लड़की, पुलिस कर रही जांच

प्रेमी ने दिया धोखा तो फांसी के फंदे से झूली लड़की, पुलिस कर रही जांच

12th March 2018 0 By Deepak Kumar

प्यार में मिला धोखा तो एक लड़की ने कमरे के पंखे में फंदा बनाकर डाला और उससे झूल गई। रात को सभी सो रहे थे जब जगे तो देखा कि उसके कमरे से आवाज नहीं आ रही है। जब लोगों ने उसके कमरे की खिड़की से झांककर देखा तो सबके होश उड़ गए। उसका शव फंदे से झूल रहा था।
यह घटना दरभंगा विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के अलीनगर मोहल्ला में घटी है। घटना की जानकारी मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। उसके कमरे की खिड़की को तोड़कर शव को बाहर निकाला गया। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए लिए डीएमसीएच भेज दिया है।
शव की शिनाख्त स्थानीय मोहल्ला निवासी मोहम्मद अख्तर की 17 वर्षीय पुत्री शमा परवीण के रूप में की गई है।घटना के संबंध में बताया जाता है कि शमा मोहल्ले के इमरान नामक युवक से बेपनाह मुहब्बत करती थी। लेकिन इमरान से उसे धोखा मिला।इमरान ने उससे शादी करने से इंकार कर दिया। शमा यह बर्दाश्त नहीं कर सकी। वह हमेशा उससे मोबाइल पर बात करती थी। यह बातचीत अचानक बंद हो गई।

प्रतिष्ठा व प्यार पर कुठाराघात से वह घर में अकेले गुमसुम व उदास रहने लगी। अपनी मां से भी वह ठीक से बात नहीं कर रही थी। हालांकि, उसकी मां नजीमा खातुन ने उसे काफी समझाने की कोशिश की। उसे आश्वासन दिया गया कि हर हाल में उसी लड़के से उसकी शादी करायी जाएगी।
शादी से उसके इंकार पर शमां को किसी अच्छे लड़के के साथ शादी कराने की बात कही गई। लेकिन प्यार में धोखे से शमां का कोमल दिल टूट गया था। अब यह दुनिया उसे बोझिल लगने लगी थी। अंदर ही अंदर उसने इस दुनिया को छोड़ने का निर्णय ले लिया।
रविवार की देर रात तक तो सबकुछ ठीक था। लेकिन, सुबह में उसका शव मिला। उसकी मां ने पुलिस को बताया कि सुबह के पांच बजे उसे पढ़ने के लिए उठाने गई थी। लेकिन, आवाज देने पर वह कुछ नहीं बोली । इसके बाद खिड़की से झांक कर देखा तो वह फंदा से झूल रही थी।इसके बाद खिड़की तोड़कर उसे फंदा से उतारा गया। लेकिन, तब तक वह दम तोड़ चुकी थी। इधर, कमरे की स्थिति भी संदिग्ध पायी गयी। परिवार वालों ने इस संदर्भ में कुछ बोलने से इंकार कर दिया है। थानाध्यक्ष अजय कुमार झा ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट अाने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। बहरहाल, अनुसंधान शुरू कर दिया गया है।

Advertisements