Bihar TOP NEWS

बड़ा बदलाव ! भारत-नेपाल के बीच इस पुल के बनने से बढ़ेगी एशियन हाइवे से कनेक्टविटी

नेपाल में भारतीय राजदूत मंजीत सिंह पुरी एसएसबी की 19वीं बटालियन के भातगांव बीओपी पहुंचे, जहां एसएसबी 19वीं बटालियन के कमांडेंट ए थान्मी ने बुके दे कर उनका स्वागत किया. एसएसबी के अभिनंदन पर हर्ष जताते हुए भारतीय राजदूत मंजीत सिंह पुरी ने एसएसबी की प्रशंसा करते हुए कहा कि एसएसबी के पदाधिकारियों से मिल कर अच्छा लगा. बुधवार को पूरी ने मेची पुल के विषय में पदाधिकारियों से पूरी जानकारी ली. बाद में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि मेरा आज का दौरा मेची नदी पर बन रहे पुल की कनेक्टिविटी को देखने के लिए है.

 

भारत-नेपाल बॉर्डर की कनेक्टिवीिटी को कैसे बेहतर किया जा सकता है. हमारे बड़े-बड़े प्रोजेक्ट वीरगंज, काकड़भीट्टा, विराटनगर मे भी चल रहे हैं. मेची पर जो पुल बनेगा, उससे एशियन हाइवे को भी कनेक्ट किया जायेगा. उन्होंने खुशी जताते हुए कहा कि मेची पुल अब बनकर पूरी तरह से तैयार है. इसके बन जाने से दोनों देशों के लोगों का आवागमन बढ़ेगा. कनेक्टिविटी बढ़ने से सामान की भी आवाजाही बढ़ेगी, जिससे व्यापार को प्रोत्साहन मिलेगा. उन्होंने खास तौर पर भद्रपुर के मेयर की प्रशंसा करते हुए कहा कि इन लोगों ने हमें बताया कि यह ऐसी सीमा है जहां दोनों देशों के लोगों का बेटी-रोटी का संबंध है.

 

उन्होंने कहा की मैं भी यह चाहता हूं कि इस दोस्ताना संबंध को और भी आगे बढ़ाया जाये. हमारी कोशिश है कि इस कनेक्टिविटी का फायदा उठाया जाये. इस दौरान नेपाल के सीडीओ कृष्ण चंद्र पांडेल, नेपाल के कस्टम अधिकारी टेक बहादुर अर्याल, भद्रपुर के मेयर जीवन श्रेष्ठ, एसएसबी के एसीपीएलएन राजू, एसी डॉक्टर बीबी सिंह, एसएसबी के इंस्पेक्टर मृत्युंजय कुमार, एसएसबी एएसआइ ललित मोहन, कस्टम इंस्पेक्टर माधव कुमार के साथ अन्य पदाधिकारी मौजूद थे.

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *