बिहार के नवादा जिले के गोविंदपुर थाना क्षेत्र के बहियारा मोड़ स्थित संत कुटीर आश्रम में रिवॉल्वर के बल पर तीन साध्वियों के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोप है कि आश्रम के ही सेवादारों ने दुष्कर्म किया।

 

आरोपितों में उत्तर प्रदेश के बस्ती जिला के लालगंज थाना क्षेत्र के सेलरा गांव का कल्पनाथ चौधरी, गिरजाशंकर चौधरी, तपस्यानंद उर्फ श्यामचंद उर्फ श्याम चौधरी व अजीत चौधरी और दिलचंद पटेल शामिल है। पांच अज्ञात को भी आरोपित किया गया है। गोविंदपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है।

 

घटना 12 दिसंबर 2017 की बताई गई है, जबकि प्राथमिकी 4 जनवरी 2018 को दर्ज कराई गई है। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है। आरोपित आश्रम छोड़ भाग चुके हैं। पीडि़त दो साध्वी यूपी और एक गया (बिहार) जिला की रहने वाली हैं। नवादा के एसपी विकास बर्मन ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

 

एक पीडि़ता ने बताया कि 12 दिसंबर की रात 10 बजे तीनों कमरे में खाना बना रही थी। इसी बीच कल्पनाथ चौधरी, दिलचंद पटेल और तपस्यानंद आए और गाली-गलौज करते हुए दुष्कर्म किया। वहीं दो अन्य आरोपित रिवॉल्वर लेकर खड़े रहे। वारदात को अंजाम देने के बाद सभी आरोपित पुलिस को सूचना देने पर जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए।

 

डर सें चली गई थीं बंगाल

 

एक पीडि़ता ने बताया कि आश्रम में कुछ महीने पहले भी एक साध्वी के साथ आरोपितों ने दुष्कर्म किया था। उस वक्त विरोध करने पर रिवॉल्वर से फायरिंग की गई थी, इसमें आश्रम का एक व्यक्ति जख्मी हो गया था। मामला पुलिस तक नहीं पहुंच सका था। इस घटना को देखते हुए भयवश तीनों साध्वी बंगाल चली गई थी।

 

आश्रम के कुछ लोगों के कहने पर वह आश्रम लौटी और फिर गोविंदपुर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई। 11 जनवरी को पीडि़ता का अदालत में 164 का बयान दर्ज कराया गया। इसके पूर्व बुधवार की रात तीनों को मेडिकल के लिए सदर अस्पताल लाया गया था लेकिन रात्रि में चिकित्सकीय जांच नहीं हो सकी।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *