Alert Bihar State TOP NEWS Weather

बिहार के 33 जिलों समेत देश के 35 फीसदी जिलों में सामान्य से कम वर्षा

नई दिल्ली/पटना. मानसून के करीब दो महीने पूरे हो गए हैं। अभी तक देश के 65% जिलों में सामान्य या इससे अधिक बारिश हुई है। लेकिन 35% जिले कम बारिश से जूझ रहे हैं। 6% जिलों में तो सामान्य से 60% तक ही बारिश हुई है। वहीं, बिहार के 33 जिलों में सामान्य से कम बारिश हुई। इसका असर खरीफ फसलों की बुवाई पर हुआ है, जो पिछले साल से 7.5% पीछे चल रही है। सीजन की प्रमुख फसल धान सबसे ज्यादा प्रभावित है। इसकी रोपाई 12.4% कम हुई है। पिछले साल इस समय तक 225.60 लाख हेक्टेयर में धान की रोपाई हो गई थी, इस साल 197.63 लाख हेक्टेयर में हुई है। गन्ने की बुवाई पिछले साल से 1.6% ज्यादा हुई लेकिन कपास 8% कम है।

दाल : दालों की बुवाई 8.73% कम है। उड़द की बुवाई 16% और अरहर की 4.4% कम है।
मोटे अनाज : बीते साल से 8.16% पीछे हैं। रागी की बुवाई 20.6%, बाजरा की 19% और मक्का की 1.5% कम हुई। ज्वार 5% ज्यादा है।
तिलहन : बुवाई 1.1% कम है। मुख्य फसल सोयाबीन पिछले साल से 6% ज्यादा है, लेकिन मूंगफली में 12.4% और सनफ्लावर में 38% गिरावट है।

धान की ज्यादा पैदावार वाले 13 राज्यों के 42% जिलों में सामान्य से कम बारिश
धान: इसकी सबसे अधिक पैदावार देश के 13 राज्यों में होती है। इन राज्यों के 343 जिलों में से 200 में सामान्य से अधिक बारिश और 143 में कम बारिश हुई है।
दलहन; अरहर, उड़द मूंग: इनकी सबसे अधिक पैदावार वाले 7 राज्यों के 266 जिलों में से 189 में सामान्य से अधिक और 77 में कम बारिश हुई है।
मोटे अनाज; मक्का, बाजरा व ज्वार: सबसे अधिक पैदावार वाले 10 राज्यों के 357 जिलाें में से 221 में सामान्य से अधिक और 136 में सामान्य से कम बारिश।
तिलहन; सोयाबीन: सबसे अधिक पैदावार वाले तीन राज्यों के 120 जिलाें में 112 में सामान्य से अधिक और 8 में सामान्य से कम बारिश हुई है।
मूंगफली: सबसे अधिक पैदावार वाले तीन राज्यों के 98 जिलाें में से 70 में अब तक सामान्य से अधिक और 28 में सामान्य से कम बारिश।
गन्ना: सबसे अधिक पैदावार वाले 10 राज्यों के 326 जिलाें में से 189 में सामान्य से अधिक और 137 में सामान्य से कम बारिश। यूपी के 47 जिलों में कम बारिश हुई है।
कपास: सबसे अधिक पैदावार वाले 10 राज्यों के 300 जिलाें में से 237 में सामान्य से अधिक और 63 में सामान्य से कम बारिश हुई है।

अच्छी बारिश से कम होगा अंतर: मौसम विभाग के अनुसार दो दिनों में यूपी, उत्तराखंड, हिमाचल, हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और एमपी के कुछ इलाकों में अच्छी बारिश के आसार हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि इससे फसलों की बुवाई में तेजी आएगी और पिछले साल की तुलना में अंतर भी कम रह जाएगा।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *