आरा जिले के कृष्णागढ़ थानाध्यक्ष रामविलास ने एक मुखिया के बेटे को फोन पर जमकर गाली दी, इसका अॉडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया जिसे सुनने के बाद एसपी अवकाश कुमार ने थानाध्यक्ष रामविलास को तत्काल सस्पेंड कर दिया। हालांकि, थाने में अभी नए थानेदार की तैनाती नहीं की गयी है। मामला गांव में मारपीट को लेकर केस दर्ज करने से जुड़ा है।

 

बताया जा रहा कि बड़हरा प्रखंड के कृष्णागढ़ थाना के सोहर पंचायत में दो पक्षों के बीच मारपीट हुई थी। जिसमें मुखिया गुप्तेश्वर साह व उनके बेटे मंजी साह दोनों पक्षों के बीच सुलह कराने के प्रयास में लगे हुए थे। इस बीच कृष्णागढ़ थाना में घटना को लेकर केस दर्ज हो गया।

 

केस होने पर मुखिया के बेटे ने गांव के चौकीदार सुपन यादव से पूछताछ की थी। मुखिया के बेटे का कहना था कि गांव में इस तरह की कोई घटना नहीं हुई थी। झूठा आरोप लगाकर केस किया गया है।

 

बताया जा रहा कि छह सितंबर को कृष्णगढ़ थानाध्यक्ष रामविलास ने सोहरा पंचायत के मुखिया के बेटे मंजी साह को फोन किया था। थानेदार ने चौकीदार सुपन यादव को धमकाने का अारोप लगाते हुए मुखिया व उसके बेटे को गंदी-गंदी गालियां दीं। फिर केस कर गांव से भगाने व घर में घुसकर मारने तक की धमकी दे डाली थी।

 

इस दौरान मुखिया का बेटा सर..सर.. संबोधन कर रहा था। थानेदार बार-बार गंदी-गंदी गालियां दे रहे थे। इस बीच किसी ने शुक्रवार को इस धमकी का ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। जिससे पुलिस महकमे में खलबली मच गयी।

 

भोजपुर जिला मुखिया संघ के जिला सचिव राजेश्वर पासवान ने थानेदार के निलंबन की मांग शुरू कर दी। एसपी अवकाश कुमार ने कहा कि ऑडिया सुनने के बाद उन्होंने थानेदार रामविलास को सस्पेंड कर दिया है। विभागीय कार्रवाई प्रारंभ करने के लिए सदर एसडीपीअो को जांच का आदेश दिया गया है। विभाग में अमर्यादित भाषा को प्रयोग हरगिज बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *