बिहार बोर्ड के रिजल्ट को लेकर तेजस्वी ने सरकार पर साधा निशाना, दागे कई सवाल

बिहार बोर्ड के रिजल्ट को लेकर तेजस्वी ने सरकार पर साधा निशाना, दागे कई सवाल

12th June 2018 0 By Bibhav Kumar

तेजस्वी यादव ने बिहार बोर्ड के रिजल्ट को लेकर सरकार पर निशाना साधा है. (फाइल फोटो)
बिहार बोर्ड में होने वाली गड़बड़ियां और रिजल्ट में त्रुटियों को लेकर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर जमकर हमला बोला है.
पटनाः बिहार बोर्ड में होने वाली गड़बड़ियां और रिजल्ट में त्रुटियों को लेकर आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर जमकर हमला बोला है. तेजस्वी यादव ने सरकार पर बिहार बोर्ड में हो रहे धांधली को लेकर कई सवाल पूछे हैं. बता दें कि इन दिनों बिहार बोर्ड के 12वीं के रिजल्ट जारी करने के बाद से छात्र लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. छात्रों ने बिहार बोर्ड द्वारा कॉपी जांच को लेकर लापरवाही का आरोप लगाया है. और दोबारा कॉपी जांच की मांग कर रहे हैं.

छात्रों ने बिहार बोर्ड कार्यालय में तोड़-फोड़ भी की है. हालांकि इस मुद्दे पर अब तक राजनीतिक रंग नहीं चढ़ रहा था. छात्र संगठन छात्रों का साथ जरुर दे रहे थे. अब आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने बिहार बोर्ड के गड़बड़ियों को मुद्दा बनाकर सरकार पर निशाना साधना शुरु कर दिया है. उन्होंने बिहार बोर्ड के रिजल्ट पर सरकार की चुप्पी और बोर्ड के अध्यक्ष को कुर्सी पर बैठाने को लेकर भी सवाल खड़े किए.

तेजस्वी ने अपने ट्विटर हैंडलर से कई ट्विट कर सरकार से सवाल किए हैं. उन्होंने उपमुख्यमंत्र सुशील मोदी पर भी तंज कसते हुए ट्विट पर लिखा कि ‘छात्रों का भविष्य ख़राब हो रहा है और स्वयं घोषित ज्ञानी-ध्यानी सुशील मोदी चुप है.. छात्रों के रिज़ल्ट और बिहार बोर्ड के काले कारनामों पर नहीं तो कम से कम हमपर ही कुछ बोलकर जुगाली कर लेते. काहे चुप है ख़ुलासा मास्टर जी?

बिहार बोर्ड द्वारा जारी रिजल्ट की मार्कसीट की कॉपी ट्विट करते हुए कहा कि उन अफसरों के बच्चों की मार्कशीट में गड़बड़ी क्यों नहीं हैं? बिहार बोर्ड के अध्यक्ष को लेकर कहा कि अपने गृहजिला के स्वजातीय मित्र को बोर्ड का अध्यक्ष बनाकर शिक्षा व्यवस्था को खराब कर दिया है. साथ ही उन्होंने बिहार के छात्रों से नीतीश कुमार को मांफी मांगने को भी कहा है.

बिहार बोर्ड के बाहर लगातार छात्र प्रदर्शन कर रहे और शिक्षा विभाग के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं. इस बारे में सरकार की चुप्पी को लेकर तेजस्वी ने कहा, नीतीश जी कभी कदाचार पर नहीं बोलते? ख़राब रिज़ल्ट पर नहीं बोलते? बिहार बोर्ड में व्याप्त भ्रष्टाचार पर नहीं बोलते? इनके गृह ज़िला के कुख्यात शिक्षा माफ़िया पर कारवाई नहीं करते? इनके चंद अफ़सर ठीक और ईमानदार लेकिन बिहार के लाखों छात्र गलत और बेईमान.. शिक्षा की गुणवत्ता पर नहीं बोलते.. तेजस्वी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से छात्रों भविष्य खराब होने को लेकर जवाब मांगा है.

Advertisements