Bihar Crime

बिहार में फिर भीड़ का अंधा ‘इंसाफ’: चोरी के आरोप में बांधकर पीटा, ऐसे बची जान

बिहार में भीड़ के कानून हाथ में लेने तथा इंसाफ के नाम पर पिटाई व हत्‍या (मॉब लिंचिंग) की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रहीं। ऐसी घटनाओं को लेकर सुप्रीम कोर्ट सख्‍त है, लेकिन बिहार में बीते कुछ दिनों से रोजाना ऐसी दिल दहलाने वाली घटनाएं हो रही हैं। बीती रात मुजफ्फरपुर में चोरी के आरोप में एक युवक को बिजली के पोल में बांध कर पीटा गया। गनीमत यह रही कि समय पर पहुंची पुलिस ने उसे बचा लिया।

चोरी के आरोप में भीड़ ने पीटा

जानकारी के अनुसार मुजफ्फरपुर के सकरा थाना के कमला चौक पर कुम्हरा पाकड़ निवासी राकेश कुमार को कुछ लोगों ने चोरी के आरोप में पकड़ लिया। दबंगों ने उसे दौड़ा-दौड़ा कर पीटना शुरू किया। इस बीच वहां भीड़ जुट गई। भीड़ भी उसे पीटने में लग गई।

 

समय से पहुंची पुलिस ने कराया मुक्‍त

 

पिटाई से घायल युवक जब नीचे गिर पड़ा तो लोगाें ने उसे पोल में बांध कर तब पीटना शुरू कर दिया। वह बुरी तरह घायल हो गया। कराहते हुए वह छोड़ देने की गुहार लगाता रहा, लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं था। गनीमत यह रही कि सूचना पाकर पुलिस समय पर पहुंच गई और उसे मुक्‍त करा लिया।

 

आरोपितों की गिरफ्तारी को ले छापेमारी

 

घायल युवक ने बतया कि उसे बसंत पंडित, मनोज शर्मा, विनोद शर्मा समेत कई लोगों ने पीटा। उसके बाद पोल में बांध कर भी मारा। सकरा थानाध्यक्ष रविशंकर सिह ने बताया कि युवक का इलाज करवाया जा रहा है। दोषियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

 

बिहार में आए दिन हों रहीं घटनाएं

 

विदित हो कि बीते कुछ दिनों के दौरान बिहार में ऐसी कई घटनाएं हो चुकी हैं। आइए डालते हैं नजर्…

 

सीतामढ़ी में चोरी के आरोपी की हत्‍या

 

सीतामढ़ी के रामनगर गांव में चोरी करने गए चार युवकों में दो शुक्रवार को ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गए। इनमें एक को भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला, जबकि दूसरा गंभीर रूप से जख्मी हो गया। उनके दो अन्य साथी भाग निकले। मृतक की पहचान रीगा थाना क्षेत्र के भगवानपुर पिपराढ़ी गांव निवासी नवल राय के पुत्र दिलीप कुमार यादव (21) के रूप में की गई है। जख्मी युवक सीतामढ़ी नगर थाना क्षेत्र के रीगा रोड निवासी रामसागर साह का पुत्र किशन कुमार है। जख्मी किशन ने बताया कि दिलीप, हरेंद्र कुमार साह और सुनील कुमार बुधवार रात करीब 12 बजे टेंपो से रामनगर गांव के सूरज कुमार की टेंपो चोरी करने गए थे। इसी दौरान ग्रामीण जुटे तो सभी भागने लगे। ग्रामीणों ने दिलीप और किशन को खदेड़कर पकड़ा, जबकि, हरेंद्र और सुनील टेंपो से भाग निकले।

 

अरवल में भैंस चोरी के आरोप में मार डाला

 

अरवल के करपी में चोरी गई भैंस के साथ खड़े एक व्यक्ति को लोगों ने चोर समझ पीटकर मार डाला। घटना में एक अन्‍य को भी बुरी तरह पीटा गया, जो गंभीर रूप से जख्मी है। घटना शहरतेलपा ओपी क्षेत्र के कुबड़ी गांव के खेत में हुई।

जानकारी के अनुसार छक्कन बिगहा गांव निवासी इंदल राम की भैंस चोरी हो गई थी। ग्रामीणों के साथ भैंस की तलाश करते वे गुरुवार को कुबड़ी बधार के समीप पहुंचे। वहां जगमोहन बिगहा निवासी सुरेंद्र यादव तथा सूर्यनाथ यादव को भैंस के साथ खड़े देखा। उन्‍होंने उन्‍हें चोर समझ पीट दिया। इससे दोनों लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए। जगमोहन बिगहा निवासी सुरेंद्र यादव की इलाज के दौरान मौत हो गई।

 

एसपी उमाशंकर प्रसाद ने कहा कि किसी भी व्यक्ति को कानून हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। दोषी लोगों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

मासूम से दुष्‍कर्म के आरोपित को जमकर पीटा

 

आरा में घर के आंगन में सोई बच्ची के साथ पड़ोस के युवक मुन्‍ना चौधरी ने दुष्कर्म किया। हल्ला होने पर जागे परिजनों ने आरोपित को दौड़ाकर पकड़ा और बांधकर जमकर धुनाई की। रात भर बांधकर रखने के बाद आरोपित को गुरुवार को पुलिस के हवाले कर दिया।

 

सिवान में बच्ची को अगवा करते पकड़े गए तीन युवकों की पिटाई

 

बुधवार को भी सिवान के हुसैनगंज थाना क्षेत्र के हथौड़ी टोला रामनगर गांव में बगीचे में खेल रही मासूम बच्ची को बोरे से ढककर अगवा कर रहे तीन युवकों को ग्रामीणों ने पकड़कर पेड़ से बांधकर जमकर पिटाई की। सूचना मिलने पर स्थानीय पुलिस तीनों को ग्रामीणों से छुड़ाकर थाने लाई। ग्रामीणों का कहना है कि आरोपितों के अन्य साथी भागने में सफल रहे।

 

बताया जाता है कि गांव के मिठू यादव की पुत्री रानी कुमारी (5) बुधवार को अपने घर के बगल बगीचे में खेल रही थी। आधा दर्जन की संख्या में आए युवक उसे बोरे से ढककर उठाकर भागने लगे। तभी घर की छत पर खेल रही उसकी बहन प्रीति कुमारी ने शोर मचाना शुरू कर दिया। शोर सुनकर खेत में काम करने वाले ग्रामीण और आसपास के लोग एकत्रित हो गए। तीन लोगों को गांव वालों ने पकड़ लिया और उनकी पिटाई शुरू कर दी। उधर, तीनों युवकों का कहना है कि वे कबाड़ चुनने गए थे, लेकिन लोगों ने उन्हें बच्चा चोर कहकर पकड़ लिया और पेड़ से बांध कर पिटाई शुरू कर दी।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *