बेटी ने कहा- नहीं करुंगी इस लड़के से शादी, पिता को हुआ शक तो करा दी हत्या

करीब 20 दिनों पहले हाजीपुर में प्रीति नामक युवती की दिनदहाड़े हत्या कर दी गई थी, जब वो अपने भाई के साथ मोटरसाइकिल से घर लौट रही थी। इस हत्या का पुलिस ने बड़ा पर्दाफाश किया है जिसमें पता चला है कि युवती के पिता ने ही दो सुपारी किलरों को तीन लाख की सुपारी देकर बेटी की हत्या करवा दी थी। प्रीति की कुछ दिनों बाद शादी होने वाली थी।
पुलिस ने 24 अप्रैल को सदर थाना के हाजीपुर लालगंज मार्ग के मनुआ में प्रीति नामक युवती की दिनदहाड़े उस वक्त हत्या कर दी गई थी जब वो अपने भाई मनीष के साथ मोटरसाईकिल पर सवार होकर घर लौट रही थी। इस दौरान दो सुपारी किलरों ने दिनदहाड़े गोली मारकर उसकी हत्या कर दी और मौके से फरार हो गए थे।
मंगलवार को करीब 20 दिनों बाद पुलिस ने प्रीति हत्या मामले का खुलासा कर दिया है। हाजीपुर के एएसपी अजय कुमार के मुताबिक इस हत्याकांड में पिता अशोक सिंह और दो शूटर समेत कुल सात लोग शामिल थे।पिता समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और दो लोगों की तलाश जारी है। पुलिस के मुताबिक प्रीति के पिता अशोक कुमार सिंह ने अपनी झूठी शान की खातिर बेटी की सुपारी देकर हत्या कराई थी। इसके लिए पिता ने अपराधियों को तीन लाख रुपये की सुपारी दी थी।

दरअसल, प्रीति ने मंगनी होने के बाद उस लड़के से शादी करने से इंकार कर दिया था और पिता अशोक कुमार सिंह को शक हो गया था कि प्रीति का किसी से अफेयर चल रहा है और इसी कारण वो शादी करने से इंकार कर रही है।
बेटी के अफेयर की बात पिता को पंसद नहीं आई और झूठी शान की खातिर उन्होंने अपराधियों को सुपारी देकर बेटी की दिनदहाड़े हत्या करवा दी। हत्या में शामिल अपराधियों ने भी अपना जुर्म कबूल कर लिया है।
खास बात ये है कि प्रीति की सगाई हो चुकी थी और कुछ ही दिनों बाद उसकी शादी होने वाली थी। इसी बीच वह अपने भाई के साथ कहीं से घर लौट रही थी, रास्ते में अपराधियों ने सरेआम प्रीति को गोली मार दी जिससे उसकी मौत हो गई थी। प्रीति की हत्या ने सबको चौंका दिया था।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *