Cricket INTERNATIONAL SPORTS TOP NEWS

बॉल टैम्परिंग करने वाले को मिली सजा

स्मिथ राजस्थान रॉयल्स और वॉर्नर सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान थे, दोनों टीमें अब एक-एक खिलाड़ी रख सकेंगी।
आईसीसी ने बैन की सीमा नहीं बढ़ाई तो दोनों अगला वर्ल्ड कप नहीं खेल पाएंगे।
स्मिथ अौर वॉर्नर की 32-32 करोड़ रुपए की कमाई डूबी।

सिडनी. बॉल टैम्परिंग विवाद के चौथे दिन क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने अपने खिलाड़ियों पर कार्रवाई की। हालांकि, वह उतनी सख्त नहीं हुई, जितनी की खुद ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री के दखल के बाद उम्मीद की जा रही थी। बोर्ड ने कप्तान रहे स्टीव स्मिथ (29) और उपकप्तानी कर चुके डेविड वॉर्नर (32) पर एक-एक साल का बैन लगा दिया। ये दोनों दो साल तक कप्तानी भी नहीं कर पाएंगे। वहीं, गेंद से छेड़छाड़ करने वाले कैमरन बेनक्रॉफ्ट पर सिर्फ नौ महीने की पाबंदी लगाई गई। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के फैसले के बाद आईपीएल ने भी दोनों खिलाड़ियों को बैन कर दिया।

141 साल में पहली बार बॉल टैम्परिंग केस में बैन
– टेस्ट क्रिकेट 1877 से खेला जा रहा है। बीते 141 साल में ऐसा पहली बार हुआ है जब बॉल टैम्परिंग करने पर दो खिलाड़ियों के खेलने पर एक-एक साल का बैन और कप्तानी करने पर दो-दो साल का बैन लगा है।
– इससे पहले नौ खिलाड़ियों पर लाइफ टाइम बैन लगा था, लेकिन वह मैच फिक्सिंग के आरोपों पर लगा था। इनमें से तीन खिलाड़ियों पर बैन बाद में हटा लिया गया था।
– सचिन तेंडुलकर पर 2001 में बॉल टैम्परिंग मामले में एक मैच का बैन लगा था। इसे बाद में हटा लिया गया। 2010 में शाहिद आफरीदी पर भी दो मैचों का प्रतिबंध लगा था।

कोच डेरेन लेहमैन को क्लीन चिट
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने कोच डेरेन लेहमैन को क्लीन चिट दी है। लेहमैन 2015 की वर्ल्ड कप विनर टीम के भी कोच थे। बॉल टैम्परिंग विवाद में उनकी भूमिका पर संदेह जताया जा रहा था।

अागे क्या : अगर आईसीसी ने सख्त कार्रवाई नहीं की, तभी खेल पाएंगे वर्ल्ड कप
1) वर्ल्ड कप
बॉल टैम्परिंग सामने आने के बाद मैच रेफरी ने स्मिथ पर एक मैच का बैन लगाया था। अब क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया अपनी रिपोर्ट आईसीसी को भेजेगा। अगर आईसीसी की टेक्निकल कमेटी इन खिलाड़ियों पर एक साल से ज्यादा का बैन लगाती है तो स्मिथ-वॉर्नर के वर्ल्ड कप खेलने की संभावनाएं खत्म हो जाएंगी। वर्ल्ड कप इंग्लैंड एंड वेल्स में अगले साल 30 मई से 14 जुलाई के बीच खेला जाएगा।

2) आईपीएल से भी छुट्टी
आईपीएल कमिश्नर राजीव शुक्ला ने बताया, ‘”चूंकि वॉर्नर और स्मिथ पर क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने एक साल का बैन लगा दिया है, इसलिए वे इस साल आईपीएल में नहीं खेल सकेंगे। संबंधित फ्रेंचाइजी टीमें उनकी जगह किसी अन्य खिलाड़ियोंं को ले सकती हैं।’’

3) भारत दौरे और एशेज पर भी नहीं जा सकेंगे
– ऑस्ट्रेलियाई टीम इसी साल भारत दौरा करेगी। इसकी तारीखें तय होना बाकी हैं। बैन के चलते वॉर्नर-स्मिथ भारत नहीं आएंगे। दोनों क्रिकेटर इंग्लैंड के खिलाफ अगली एशेज सीरीज में भी नहीं खेल पाएंगे। ऑस्ट्रेलिया ने पिछली एशेज सीरीज स्मिथ की कप्तानी में ही जीती थी।

4) स्मिथ-वॉर्नर को 32 करोड़ रुपए का नुकसान
– स्मिथ और वॉर्नर को आईपीएल के इस सीजन में खेलने पर 12-12 करोड़ रुपए मिलने थे। साथ ही, अगले एक साल कोई भी इंटरनेशनल टूर्नामेंट नहीं खेल पाने के चलते उन्हें क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से मिलने वाली 20-20 करोड़ रुपए की मैच फीस भी नहीं मिल पाएगी। इस तरह दोनों को 32 करोड़ रुपए यानी 64 लाख ऑस्ट्रेलियन डॉलर का नुकसान होगा।
– वाॅर्नर एलजी, निकोलस, नाइन, टोयोटा, नेस्ले जैसे ब्रांड से जुड़े हैं। इस विवाद के बाद एलजी ने कहा है कि वह वॉर्नर के साथ करार रिन्यू नहीं करेगी।

स्मिथ-वॉर्नर-बेनक्रॉफ्ट ने आखिर क्या किया था?
– ऑस्ट्रेलियाई टीम टेस्ट सीरीज खेलने के लिए साउथ अफ्रीका गई है। शनिवार को केपटाउन में सीरीज के तीसरे टेस्ट के तीसरे दिन का खेल हो रहा था। लंच के बाद ऑस्ट्रेलियाई ओपनर बेनक्रॉफ्ट पीले रंग के टुकड़े को गेंद पर रगड़ते नजर आए।
– बेनक्रॉफ्ट गेंद के चमकीले हिस्से की उल्टी दिशा को टेप से रफ करने की कोशिश कर रहे थे ताकि रिवर्स स्विंग मिले। उनकी यह हरकत टीवी कैमरे की जद में आ गई।
– दिन का खेल खत्म होने के बाद स्टीव स्मिथ और बेनक्रॉफ्ट ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बॉल टैम्परिंग की बात कबूल की। स्मिथ ने कहा था- लंच के दौरान टीम लीडरशिप ने इसकी प्लानिंग की थी। लेकिन कोच लेहमैन इसमें शामिल नहीं थे।
– ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने कड़ी कार्रवाई के आदेश दिए थे। इसके बाद स्टीव स्मिथ ने कप्तान और डेविड वॉर्नर ने उपकप्तान पद से इस्तीफा दे दिया था।
– नियमों के मुताबिक, फील्डर बॉल से कोई छेड़छाड़ नहीं कर सकते। अंपायर की देखरेख में वे बॉल से मिट्‌टी जरूर हटा सकते हैं। बॉल गीली होने पर किसी अप्रूव्ड कपड़े से उसे सुखा सकते हैं। खुरदुरा करने के लिए जानबूझकर ग्राउंड पर नहीं फेंक सकते। अंगुलियों या अन्य किसी भी अार्टिफिशियल तरीके से उसे स्क्रैच भी नहीं कर सकते।

आईपीएल में दोनों के विकल्प ढूंढ़ना आसान नहीं
– स्मिथ और वॉर्नर का दो आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन रहा है। वॉर्नर ने सनराइजर्स हैदराबाद को 2016 में विजेता बनाया था। उन्होंने 114 आईपीएल मैचों में तीन शतकों के साथ 4014 रन बनाए हैं।
– स्मिथ ने 2017 में पुणे सुपरजाइंट्स को फाइनल तक पहुंचाया। उन्होंने 69 आईपीएल मैचों में एक शतक के साथ 1703 रन बनाए हैं।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *