BHAGALPUR

भागलपुर:शिक्षक बहाली के लिए TNB लॉ कालेज के छात्रों का विरोध जारी

बीसीआई ने कहा-शिक्षकों की कमी नहीं हुई पूरी तो  नहीं मिलेगी मान्यता 

टीएनबी लॉ कॉलेज में इस बार दाखिले पर संशय की स्थिति है। कॉलेज को बार  काउंसिल ऑफ इंडिया ने अब तक सत्र  2018-19 के लिए दाखिले की अनुमति  नहीं दी है। बीसीआई की शर्त है कि कॉलेज में शिक्षकों की संख्या बढ़ने पर  ही अनुमति दी जाएगी। फिलहाल कॉलेज  के पास सत्र 2018-19 के लिए मान्यता  नहीं है। कॉलेज में शिक्षकों की संख्या काफी कम है। मई के अंत में कॉलेज में  केवल दाे शिक्षक ही बच जाएंगे। इन दो  शिक्षकों के भरोसे से ही 600 स्टूडेंट्स की  पढ़ाई होगी।  कॉलेज में फिलहाल कुल तीन शिक्षक  हैं। इसमें प्राचार्य डॉ. एसके पाण्डेय शामिल हैं। प्राचार्य डॉ. एसके पाण्डेय 31 मई को रिटायर हाे जाएंगे। उनके  रिटायरमेंट के बाद ही मई के अंत तक लाॅ  फैकल्टी धीरज मिश्रा और संजीव सिन्हा बच जाएंगे। ऐसे में दाखिला नहीं होगा।

 

 

शिक्षक बहाली के लिए लॉ के छात्रों ने किया सड़क जाम

भागलपुर | टीएनबी लॉ कॉलेज के छात्रों ने कॉलेज में शिक्षकों की बहाली  के लिए मंगलवार को कॉलेज से  तिलकामांझी चौक तक रैली निकाली।  उन्होंने 10 से 11 बजे तक तिलकामांझी  चौक जाम भी किया। कॉलेज के छात्र  संघ अध्यक्ष रवि कुमार और सुदर्शन  कुमार टीएनबी कॉलेज में शिक्षकों  की बहाली को लेकर दूसरे दिन भी  अनशन पर बैठे। देर शाम में दो छात्र  की हालत बिगड़ गई। डॉक्टरों ने उसे  मायागंज रेफर किया लेकिन वह जाने  को तैयार नहीं हुए। अध्यक्षता धर्मराज  सिंह ने किया। छात्र संघ अध्यक्ष रवि कुमार और कोषाध्यक्ष सुदर्शन कुमार  सोमवार से अनशन पर बैठे हैं। इनके  समर्थन में प्राचार्य डॉ. एसके पाण्डेय भी अनशन स्थल पर बैठे थे। एक माह में कैसे होगी  शिक्षकों की नियुक्ति  नया सत्र जून-जुलाई में शुरू होता  है। ऐसे में शिक्षक की नियुक्ति करना बहुत मुश्किल है। कुलपति खुद नियुक्ति नहीं कर सकते हैं।  बीपीएससी लॉ कॉलेजों में नियुक्ति नहीं  कर रहा है। विवि सेवा आयोग गठन  की प्रक्रिया में है। ऐसे में शिक्षकों की  नियुक्ति मुश्किल है। सूत्रों की मानें तो  बीसीआई की अनुमति और मान्यता  के बिना अगर 2018 में दाखिला लिया  गया तो छात्रों की डिग्री को बीसीआई  मान्यता नहीं देगा।

शिक्षा विभाग के प्रिंसिपलसेक्रेटरी से आज बात करूंगा बार काउंसिल सेबात कर रहे हैं।शिक्षा विभाग के प्रिंसिपलसेक्रेट्री से 16 मई काेबात करने पटना जा रहाहूं। मेरी पूरी कोशिश हैकि मान्यता न रुके। विवि अपने स्तर से तो बहाली कर नहीं सकता है, इसलिए परेशानीहो रही है। हम बिहार सरकार से मांग करेंगेकि कम से कम कुछ शिक्षकों की बहाली की जाए।

प्रो. नलिनीकांत झा, कुलपति, टीएमबीयू

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *