भागलपुर:सिलेंडर विस्फोट मामले में गैस एजेंसी संचालक के विरुद्ध एक और प्राथमिकी होगी

शंकर गैस एजेंसी के संचालक सह शांति विवाह भवन के मालिक शंकर प्रसाद साह के विरुद्ध एक और प्राथमिकी दर्ज करायी जायेगी। सदर एसडीओ ने जगदीशपुर सीओ को प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया है।

 

एसडीओ आशीष नारायण ने बताया कि मलबा के नीचे से 224 सिलेंडर मिला है। अभी मलबा हटाने का काम चल रहा है। जांच में पाया गया है कि अवैध रूप से विवाह भवन में सिलेंडर रखकर कारोबार किया जा रहा था। बरामद सिलेंडर में कई में गैस भरा हुआ है। विवाह भवन चलाने के लिए भी अनुमति नहीं ली गयी थी। गैस एजेंसी संचालक द्वारा आईओसी के नियमों की अवहेलना की गयी है। सुरक्षा मानकों का ध्यान नहीं रखा गया है। एसडीओ ने बताया कि गुरुवार तक गैस एजेंसी के संचालक के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करा दी जाएगी। जांच टीम में शामिल जगदीशपुर सीओ ने बताया कि गुरुवार को जांच रिपोर्ट सौंप दी जाएगी। जांच के दौरान कई अनियमितताएं पायी गयी हैं।

 

विवाह भवन में सिलेंडर विस्फोट के बाद से शंकर गैस एजेंसी का कार्यालय बंद है। एजेंसी के संचालक का पता नहीं चल रहा है। कार्यालय बंद रहने से उपभोक्ताओं को काफी परेशानी हो रही है। दो दिन से नम्बर लगाये उपभोक्ताओं को गैस सिलेंडर नहीं मिल रहा है। एसडीओ ने बताया कि अगर एजेंसी का कार्यालय नहीं खुला तो उपभोक्ताओं को दूसरी गैस एजेंसी से टैग किया जाएगा। इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के अधिकारी भी पूरे मामले को देख रहे हैं। उनके स्तर से उपभोक्ताओं को दूसरी एजेंसी से टैग करने का निर्णय लिया जाएगा।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *