BHAGALPUR

भागलपुर:हरियाली व केसरिया के संगम से सावन बाजार हुआ गुलजार

श्रावणी मेला आने में एक सप्ताह बांकी है. श्रावणी मेले को लेकर बाजार में रौनक दिखने लगा है. व्यवसायियों ने कपड़ा, अगरबत्ती का स्टॉक कर लिया. बाजार में केसरिया, उजला के साथ-साथ हरे कपड़े व श्रृंगार सामान भी सजा लिये गये हैं. कांवरियाें के लिए के लिए अंग्रेजी टोपी, कमर में बेग, कंधा बेग आदि खास है.

 

बाजार पर फैशन का असर: सावन बाजार पर फैशन का असर दिख रहा है. कावरियाें के लिए बैलून पैंट, बरमूडा, स्लिम टी-शर्ट आ चुके हैं.

वहीं युवतियों के लिए एक से एक डिजाइनर कपड़े उतारे गये हैं. कावंरिया कपड़ा के कारोबारी श्याम कुमार कश्यप ने बताया कि गोड्डा, बांका, बौंसी, अमरपुर आदि क्षेत्रों में कांवरिया कपड़े की सप्लाइ शुरू हो गयी है. कांवरिया पोशाक सुल्तानगंज, मुंगेर एवं भागलपुर में ही अधिकांश तैयार होता है.

 

कोलकाता से आ रहे है कांवरिया पोशाक : अभिषेक जोशी ने बताया कि पिछली बार 50 हजार रुपये से अधिक का कारोबार हुआ था. कांवरिया कपड़ा कोलकाता के मोटियाब्रिज और बड़ा बाजार से मंगा रहे हैं. कांवरिया प्राय: अपने कपड़े में हाफ पेंट, गंजी, टीशर्ट, गमछी, साड़ी व सलवार सूट की खरीदारी करते हैं. इसलिए इन कपड़ों की बिक्री अन्य दिनों से 10 गुनी बढ़ जाती है. लेडिज वस्त्र के थोक व्यवसायी अरुण चोखानी ने बताया कि श्रावणी मेले में 40 फीसदी बिक्री बढ़ जाती है.

 

मधु श्रावणी में मैथिली समाज की सुहागिन महिलाओं में हरी साड़ियां पहनने का रिवाज है. कपड़ा व्यवसायी अरुण चोखानी ने बताया कि सावन में हरी साड़ियाें की बिक्री 30 फीसदी तक बढ़ जाती है. सूती साड़ी 300-400 रुपये तक, सिंथैटिक साड़ियां 500-600, जरी वर्क व सिल्क साड़ियां 1000 से 2000 रुपये तक की खरीदारी हो रही है.

 

सेंटेड अगरबत्ती से सजी दुकानें: अगरबत्ती के थोक व्यवसायी ने बताया कि बेंगलुरु से अलग-अलग सुगंधित अगरबत्ती मंगा चुके हैं. हरेक वर्ष बासुकीनाथ में जलाभिषेक करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ती जा रही हैं.

 

हरी चूड़ी-लहठी से सजी दुकानें, स्टोन वर्क से फैंसी चूड़ियां कर रही हैं आकर्षित लहठी दुकानदार बुलिया मनिहार ने बताया कि प्लेन लहठी 40 रुपये दर्जन मिल रहा है, इसे लहरिया लहठी भी कहा जाता है. महिलाओं को हरे रंग में चैन डिजाइन, थ्री पीस डिजाइन अधिक भा रहा है.

ये 60 रुपये से लेकर 150 रुपये तक में मिलते हैं. हरे रंग का चूड़ा सेट 200 से 400 रुपये में उपलब्ध है. अधिकांश महिलाएं 250-300 रुपये का चूड़ा सेट खरीद रही हैं. इसमें स्टोन वर्क होता है, जो हरे रंग के साथ सुनहरा रंग भी मिक्स होता है. महिलाएं चूड़ा सेट अधिक खरीद रही हैं. चूड़ी दुकानदार मो सिकंदर ने बताया कि प्लेन चूड़ी प्रति डब्बा 15 रुपये में मिलती है. फैंसी चूड़ी 20 से 60 रुपये प्रति डब्बा तक आते हैं. स्टोन वर्क से फैंसी चूड़ी आकर्षित कर रही है.

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *