बिहार में प्रतिभाओं की कमी नहीं है। टॉपर घोटाले की वजह से बिहार की हो रही बदनामी के बीच दो युवा वैज्ञानिकों ने एक बार फिर से कमाल किया है। इनके प्रयोग को देख सीएम नीतीश कुमार भी गदगद हुए।

गर्मी के मौसम में बिहार बिजली संकट से जूझ रहा होता है। वैसे में बिहार के दो युवा वैज्ञानिकों ने इससे निजात दिलाने के लिए नई खोज की है। भागलपुर से आए युवा वैज्ञानिक गोपाल ने केले के पेड़ से बिजली बनाने की विधि बताया तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी चौंक गए।
भागलपुर जिले का गोपाल बारहवीं का छात्र है और उसने केले के पेड़ से बिजली निकालने की विधि इजाद की है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लोक संवाद कार्यक्रम में पहुंचकर गोपाल ने अपने शोध का डेमो दिया सीएम नीतीश कुमार ने भी युवा वैज्ञानिक की जमकर तारीफ की।
गोपाल ने बताया कि केले के पेड़ में एसिडिक कैरेक्टर होती है। युवा वैज्ञानिक ने बताया कि केले के पेड़ में एसिटिक एसिड और साइट्रिक एसिड की मात्रा पाई जाती है और उसमें दो इलेक्ट्रोड सहारे 3 वोल्ट तक की बिजली पैदा की जा सकती है।
गोपाल ने बताया कि अगर केले के पेड़ को सीरीज में जोड़ दिया जाए तो 12 वोल्ट तक की बिजली पैदा की जा सकती है। गोपाल के मुताबिक केले के पेड़ से जो चलिए तक निकाले जाते हैं उसे अगर बैटरी में डाल दिया जाए तो उससे भी बिजली की प्राप्ति की जा सकती है। युवा वैज्ञानिक ने बताया कि हम लोग इसी विधि के सहारे LED बल्ब जलाकर पढ़ाई करते हैं।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने डेमो देखने के बाद अधिकारियों को निर्देश दिया कि पूरी विधि को समझें और इस पर काम किया जाए कि किस तरीके से इसका व्यवसायिक इस्तेमाल हो सकता है।

Advertisements

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *