भागलपुर में बिजनेसमैन और कांग्रेस कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

भागलपुर में व्यवसायी और ठेकेदार अमरजीत राय (35)की बीच बाजार तिलकामांझी के बड़ी पोस्ट ऑफिस के गेट पर गोली मारकर हत्या कर दी गयी। हत्यारे पैदल ही भाग निकले।
वह बड़ी पोस्ट ऑफिस के सामने बजाज सर्विस सेंटर वाली गली के रहने वाले थे। वारदात गुरुवार की रात 8:52 मिनट पर घटी। अमरजीत मूल रूप से रन्नुचक के रहने वाले थे। अमरजीत कांग्रेस पार्टी से भी जुड़े थे।
हत्या के बाद बवाल, लोगों ने एसएसपी का किया विरोध
घटना के बाद पुलिस ने घटनास्थल के पास में ही एक घर में लगे सीसीटीवी को खंगाला। इसमें व्यवसायी को गोली मारने के बाद दो लोग पैदल ही भागते दिखे हैं। उनका चेहरा साफ नहीं दिख रहा। घटना की सूचना पर एसएसपी मनोज कुमार मायागंज अस्पताल पहुंचे जहां लोग आक्रोशित थे। एसएसपी के सामने लोगों ने लॉ एंड ऑर्डर पर सवाल उठाया। लोगों का कहना था कि शहर में कोई सुरक्षित नहीं रह गया है।
गिरफ्तारी नहीं तो पोस्टमार्टम नहीं
हत्या के बाद आक्रोशित लोग मायागंज पहुंच गये। काफी संख्या में लोग वहां इकट्ठा हो गये। उन्होंने एसएसपी को साफ कह दिया कि हत्यारे की जबतक गिरफ्तारी नहीं होगी वे शव का पोस्टमार्टम नहीं होने देंगे। अमरजीत के शव को वे लोग घर लेकर चले गये। माहौल बिगड़ता देख जोनल आईजी सुशील मानसिंह खोपड़े और रेंज डीआईजी विकास वैभव भी घटनास्थल पर पहुंचे। देर रात तक हंगामा जारी रहा।

विधायक ने कहा- हत्यारे तुरंत पकड़े जाएं
इस संबंध में विधायक अजीत शर्मा ने कहा कि अमरजीत की हत्या जघन्य घटना है। उन्होंने डीआईजी से बात की और कहा कि हत्यारे तुरंत पकड़े जाएं। उन्होंने कहा कि अमरजीत कांग्रेस के सर्वाधिक सक्रिय कार्यकर्ता थे। उनसे काफी घनिष्ठ थे। विधायक ने कहा कि अमरजीत संगठन में किसी पद पर नहीं थे। वे पद से उपर की चीज थे। उनके लिए पार्टी के सभी कामों का संचालन करते थे। इतने सीधे-साधे आदमी को किसी ने क्यों मारा? यह समझ में नहीं आ रहा है। विधायक ने कहा कि शहर में अपराधियों का मनोबल काफी बढ़ गया है। सरकार और पुलिस आमलोगों को सुरक्षा प्रदान करे।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *