NATIONAL

भारतीय सुरक्षा बलों ने सीजफायर समझौते की पवित्रता बनाए रखी लेकिन PAK ने धोखा दिया’

जम्मू कश्मीर के सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास पाकिस्तान रेंजर्स की गोलीबारी में सहायक कमांडेंट स्तर के एक अधिकारी सहित बीएसएफ के चार कर्मी शहीद हो गए और तीन अन्य घायल हो गए.
जम्मूः बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को कहा कि भारतीय सुरक्षा बलों ने सीमा पर संघर्षविराम की पवित्रता बनाए रखी लेकिन दुर्भाग्य से पाकिस्तान ने ऐसा नहीं किया. अतिरिक्त महानिदेशक (पश्चिमी कमान) के एन चौबे ने पाकिस्तान रेंजर्स द्वारा मंगलवार रात गोलीबारी में बीएसएफ के चार कर्मियों के मारे जाने को ‘धोखा’ बताया. उन्होंने कहा कि पड़ोसी देश ने जो किया यह उसका काम था और हमले पर हमारी ओर से जवाब देना ‘‘ हमारा काम ’’ है. चौबे ने यह भी कहा कि घटना को लेकर बीएसएफ पाकिस्तानी पक्ष से अपना विरोध जताएगा.

जम्मू कश्मीर के सांबा जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास पाकिस्तान रेंजर्स की गोलीबारी में सहायक कमांडेंट स्तर के एक अधिकारी सहित बीएसएफ के चार कर्मी शहीद हो गए और तीन अन्य घायल हो गए. चौबे ने नई दिल्ली में संवाददाताओं से कहा कि हम हमेशा तैयार हैं. संघर्षविराम हो या नहीं हो , सीमा पर प्रभुत्व बनाए रखा है और निगरानी में कमी नहीं आयी है. अधिकारी से सवाल पूछा गया था कि क्या सीमा सुरक्षा बल इसके लिए तैयार नहीं थे.

क्या पाकिस्तान ने धोखा दिया , इस संबंध में सवाल पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि संघर्षविराम की घोषणाओं का सम्मान किया जाता है. उन्होंने कहा , ‘‘ हमने इसका सम्मान किया और पाकिस्तान ने इसका सम्मान नहीं किया. पाकिस्तान ने जो किया वह उसका काम था और छल का जवाब देना हमारा काम है. ’’

यह पूछे जाने पर कि क्या जवानों की शहादत का प्रतिशोध लिया जाएगा , चौबे ने कहा , ‘‘ हमारी संचालन तैयारियों में जो हो रहा है उसके बारे में मैं साझा नहीं कर सकता. ’’ उन्होंने कहा , ‘‘ लेकिन , हम इतना कहेंगे कि हम क्षेत्रीय अखंडता और प्रभुत्व बनाए रखेंगे. ’’

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *