मां, बाप और भाई की हत्या के बाद किशोरी से गैंगरेप, कोर्ट में पीड़िता ने सुनाई आपबीती

मां, बाप और भाई की हत्या के बाद पांच आरोपियों ने किशोरी से किया था गैंगरेप। इसके बाद हथियारों से वार कर मरा हुआ जान छोड़ गए थे। कोर्ट में पीड़िता ने सुनाई आपबीती।

 

बिहपुर थाने के झंडापुर इलाके में महादलित परिवार के तीन सदस्यों की सामूहिक हत्या की प्रत्यक्षदर्शी लड़की की सोमवार को एससी/एसटी विशेष न्यायालय में गवाही हुई। लड़की ने पांच आरोपियों पर दुष्कर्म के बाद कुल्हाड़ी से हमलाकर घायल कर देने का आरोप लगाया है। जज ने लड़की का बयान चैंबर में दर्ज किया। बुधवार को पुन: लड़की की गवाही होगी।

 

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुषमा त्रिवेदी के समक्ष लड़की ने अपने बयान में कहा है कि घटना की रात आरोपी मोहन सिंह, बलराम राय, कन्हैया झा, अमन झा और मो. महबूबा आदि लोगों ने घर के बाहर ताड़ी पीकर मछली खाया था। देर रात आरोपी दुष्कर्म की नीयत से घर में घुस रहे थे। बाहर सो रहे पिता के साथ मारपीट कर रहे थे। मां जग गई और चिल्लाने लगी तो बदमाशों ने दोनों की कुल्हाड़ी और छूरा मारकर हत्या कर दी। 12 साल के भाई छोटू की भी छूरा मारकर हत्या कर दी। उसके बाद आरोपियों ने भय दिखाकर सामूहिक दुष्कर्म किया। लड़की ने इसके पहले 161 के बयान में भी दुष्कर्म की बात कही थी।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *