मुंगेर के तारापुर में अतिक्रमण हटाने के दौरान भाजपा नेता ने पकड़ा एसडीओ का कॉलर

मुंगेर के तारापुर में अतिक्रमण हटाने के दौरान भाजपा नेता ने पकड़ा एसडीओ का कॉलर

23rd June 2018 0 By Kumar Aditya

बिहार में मुंगेर के तारापुर शहर में शनिवार को अतिक्रमण हटाने के दौरान दुकानदार सह भाजपा नेता तबारक खान एवं एसडीओ उपेंद्र सिंह के बीच बहस हो गयी. जिससे आक्रोशित होकर भाजपा नेता ने एसडीओ का कॉलर पकड़ लिया. दोनों में धक्का-मुक्की होने लगी. एसडीओ के बॉडीगार्ड एवं पुलिस बलों ने एसडीओ को अपनी सुरक्षा घेरे में लेकर भीड़ से बाहर निकाला. जबकि पुलिस ने भाजपा नेता को गिरफ्तार कर लिया. जिसके विरोध में दुकानदारों ने अतिक्रमण हटाने गयी पुलिस पर पथराव प्रारंभ कर दिया और बाद में सड़क जाम कर यातायात को बाधित किया गया.

 

बताया जाता है कि पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार तारापुर के एसएच 22 के सड़क के दोनों किनारे से अतिक्रमण हटाने को लेकर सुबह 9 बजे एसडीओ उपेंद्र सिंह के नेतृत्व में पुलिस बल पहुंचे. चिह्नित स्थानों से जेसीबी लगा कर अतिक्रमण हटाने का सिलसिला प्रारंभ हुआ. मकान व दुकान के अतिक्रमित हिस्से को हटाया जा रहा था. अपराह्न 3:15 बजे उल्टा स्थान महादेव मंदिर के समीप खन्ना ट्रेडर्स के पास जब पदाधिकारी अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंचे. तो खन्ना ट्रेडर्स के संचालक सह भाजपा नेता तबारक खान ने तारापुर एसडीओ उपेन्द्र सिंह से कहा कि आप हमारे दुकान को नहीं तोड़ सकते हैं. क्योंकि यह मेरे निजी जमीन पर है. जिस पर एसडीओ ने कहा कि अतिक्रमण हटाने के लिए पहले ही मापी कराकर जगह चिह्नित किया गया है. जिसमें आपके दुकान का भी भाग है.

 

जिस पर भाजपा नेता तबारक खान भड़क गये और एसडीपीओ का कॉलर पकड़ लिया. दोनों के बीच धक्का-मुक्की होने लगी. तब एसडीओ के अंगरक्षक व पुलिस जवानों ने एसडीओ को अपने अभिरक्षा में लेते हुए सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया. जबकि तबारक खान को पुलिस कस्टडी में लेकर थाना ले आयी. तबारक खान को पुलिस कस्टडी में लेने के विरोध में उनके समर्थकों द्वारा पुलिस बल पर पथराव शुरू कर दिया गया. जिसमें दो पुलिसकर्मी के घायल होने की सूचना है.

 

इधर, भाजपा नेता के गिरफ्तारी के विरोध में गाजीपुर के लोगों ने एसएच 22 को उर्दू चौक मस्जिद के समीप जाम कर दिया. जाम लगभग 6 बजे शाम तक रही. जाम को हटाने के लिए जब काफी संख्या में पुलिस बल पहुंचे तो जाम कर रहे लोग खुद व खुद वहां से भाग खड़े हुए. स्थिति को देखते हुए खड़गपुर के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी पोलस्त कुमार के नेतृत्व में भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है.

Advertisements