मुजफ्फरपुर पर मंडराया बाढ़ का खतरा, 50 हजार की आबादी पानी के घेरे में…

मुजफ्फरपुर पर मंडराया बाढ़ का खतरा, 50 हजार की आबादी पानी के घेरे में…

19th August 2017 0 By Kumar Aditya

उत्तर बिहार के चम्पारण और मिथिलांचल में पानी उतरने का सिलसिला शनिवार को भी जारी है। इसके साथ ही इन इलाकों में राहत के काम में भी तेजी आ रही है। राहत वितरण को लेकर कई जगहों से जाम और हंगामे की भी सूचना है। इसके ठीक उलट मुजफ्फरपुर शहर पर बाढ़ का संकट मंडराने लगा है। शहर के निचले इलाकों की 50 हज़ार की आबादी बूढ़ी गंडक के पानी से पूरी तरह घिर गई है। नदी का पानी हर घंटे 2 सेंटीमीटर के हिसाब से बढ़ रहा है। बाढ़ के खतरे को देखते हुए जिला प्रशासन ने तटवर्ती इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया है। लोग घर खाली कर सुरक्षित स्थानों की ओर निकलने लगे हैं। कई मुहल्लों में लोग ने छतों पर ठिकाना जमा रखा है।

उधर, दरभंगा के पिंडारुच हाई स्कूल चौक के निकट एसएच-75 को प्रशासन की ओर से कोई राहत नहीं मिलने पर लोगों ने बांस बल्ला और चौकी लगाकर जाम कर दिया। जिले में बाढ़ की स्थिति यथावत है। विभिन्न प्रखंडों में सैकड़ों गांव टापू बने हैं। लोगों को राहत सामग्री पहुंचने का इंतजार है। राहत नहीं मिलने से बाढ़ पीड़ितों का आक्रोश फूटने लगा है। एनडीआरएफ की तीन टीम बचाओ कार्य में लगी है। उधर, सीतामढ़ी, मधुबनी में स्थिति में सुधार आ रहा है। नदियों का जलस्तर धीरे-धीरे नीचे जा रहा है। जिला प्रशासन मुख्य सड़कों को ठीक करने की तैयारी में जुट गई है। उधर, समस्तीपुर के कल्याणपुर, सिंघिया, हसनपुर और बिथान में दरभंगा से पानी आने का सिलसिला जारी है।

Advertisements