रानीदियारा में फिर शुरू हुआ भीषण कटाव, 20 घर गंगा में विलीन

रानीदियारा में फिर शुरू हुआ भीषण कटाव, 20 घर गंगा में विलीन

11th August 2018 0 By Kumar Aditya

रानीदियारा में फिर शुरू हुआ भीषण कटाव, 20 घर गंगा में विलीन

रानीदियारा में शुक्रवार की दोपहर से भीषण

कटाव प्रारंभ हो गया है। कटाव की गति इतनी

तेज है कि देखते ही कई घर गंगा में

विलीन हो गये। करीब 20 घर

गंगा में समा गया है। कई एकड़

जमीन को गंगा में विलीन हो

गई। कटाव में पीरपैंती क्षेत्र

के रानी दियारा गांव के

लगभग बीस लोगों ने अपने

घर को खाली कर दिया है।

महंत बाबा स्थान के पास के लगभग

आधा दर्जन लोग पलायन कर गए। राधा

देवी,अधिक यादव,चंद्रदीप यादव,बाबूलाल

यादव ने पलायन किया है। शुक्रवार को

कौशलेन्द्र यादव,अमरेन्द्र यादव,अशोक

यादव,छत्तीस यादव,और धर्मेंद्र यादव का

घर गंगा में समा गया। नंदलाल मुडल,मनोगी

मंडल,कैलाश मंडल,बद्री मंडल,वागेश्वर

मंडल,विश्वनाथ मंडल का घर भी गंगा में समा

चुका है। गांव के बाहर जाने वाली

सड़क भी गंगा में आधी समा गई

है। ग्रामीण काफी भयभीत हैं।

लोग रात में जगकर जानमाल

की हिफाजत कर रहे हैं। गांव

में रोशनी की कोई व्यवस्था

नहीं है। पलायन करने वाले

परिवार खुले आसमान के नीचे

रहने को मजबूर हैं। प्रशासनिक तौर

पर इन लोगों के रहने की कोई व्यवस्था नहीं

है। एसडीओ सुजय कुमार सिंह ने बताया कि

पीरपैंती सीओ व कर्मचारियों को स्थिति का

जायजा लेने को भेजा गया है।

रानीदियारा में हो रहेकटाव को देखने जुटी ग्रामीणों की भीड़।

ग्रामीणों का पलायन शुरू, खुले आसमान के नीचे

रह रहे, रतजगा कर रहे

लोग

कटाव पीड़ितों को जेनरेटर से मिले लाइट

पीरपैंती | प्रखंड के रानी दियारा गांव में भीषण कटाव

को देखते हुए प्रखंड जदयू अध्यक्ष विवेका गुप्ता ,भाजपा

नेता ऋषिकेश सिंह पीरपैंती अंचलाधिकारी नागेंद्र कुमार

सेमिलकर तत्काल रानी दियारा गांव में कटाव पीड़ितों की

समस्या को अवगत कराते हुए कहा कि शीघ्र रानी दियारा

गांव में लाइट की सुविधा के लिए जनेटर की सुविधा मुहैया

करानेका अनुरोध किया है। सीओ ने जदयू नेता सह

पंचायत समिति सदस्य के पति अनन्त मण्डल को जनेटर

की व्यवस्था कर लाइट की सुविधा मुहैया करवाने में

सहयोग करनेकी बात कही है।

बाढ़ का सीओ ने लिया जायजा

खरीक। कोसी नदी के जलस्तर में कमी अाई है। खरीक सीओ

विजय शंकर पांडा ने भी शुक्रवार को लोकमानपुर पहुंच कर

स्थिति का जायजा लिया।सीओ ने बताया कि निचले इलाके में घर

बनाकर रह रहेकुछ लोगों के घरों में पानी प्रवेश कर गया था।

Advertisements