राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी तीन अप्रैल को विक्रमशिला में सभा को संबोधित करेंगे। भवन निर्माण विभाग को भव्य पंडाल और मंच बनाने का निर्देश दिया गया है। किसानों को मुआवजे का भुगतान भी दो दिन में करने की तैयारी शुरू हो गयी है।
मंगलवार को डीएम आदेश तितरमारे की अध्यक्षता में सभी कोषांगों के वरीय पदाधिकारी और नोडल पदाधिकारियों की बैठक हुई। इसमें राष्ट्रपति के कार्यक्रम की तैयारी की समीक्षा की गयी। बताया गया कि अंतीचक के किसानों को मुआवजे का भुगतान करने की प्रक्रिया दो दिन में पूरी कर ली जाएगी। किसानों को दो फसलों के लिए 36 लाख रुपए मुआवजा दिया जाएगा। किसानों की सूची तैयार कर ली गयी है। बैठक में बताया गया कि एनटीपीसी और विक्रमशिला में सीसीटीवी लगाये जाएंगे। सुरक्षा व्यवस्था के लिए सरकार से पुलिस के जवान और अधिकारियों की मांग की गयी है। 21 वीआईपी गाड़ियों की मांग की गयी है। एक अप्रैल को कहलगांव में रिहर्सल किया जाएगा।
पंडाल और बैरिकेडिंग तैयार होने के बाद भवन निर्माण विभाग से सर्टिफिकेट लिया जाएगा। मेडिकल टीम एनटीपीसी, विक्रमशिला और आसपास के क्षेत्रों में तैनात रहेगी। मायागंज और सदर अस्पताल को भी तैयार रहने का निर्देश दिया गया है। विद्युत कार्य प्रमंडल को वायरिंग की जांच करने को कहा गया है। एनटीपीसी, विक्रमशिला सहित अन्य महत्वपूर्ण जगहों पर नियंत्रण कक्ष खोला जाएगा। नियंत्रण कक्ष को आधुनिक सुविधाओं से लैस रखने का निर्देश दिया गया है। बुधवार को डीएम, एसएसपी सहित कोषांग से सभी वरीय और नोडल पदाधिकारी विक्रमशिला में तैयारी का निरीक्षण करेंगे।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *