रैगिंग की घटना से इंजीनियरिंग कॉलेज के द्वितीय वर्ष के छात्रों में आक्रोश

रैगिंग की घटना से इंजीनियरिंग कॉलेज के द्वितीय वर्ष के छात्रों में आक्रोश

10th August 2018 0 By Kumar Aditya

भागलपुर। 2017 बैच को अभी हास्टल में प्रवेश करने से 15 दिन भी नहीं हुए हैं कि सीनियर छात्रों ने देर रात तीन नंबर छात्रावास के पास पहुंच कर रैगिंग की घटना को अंजाम दिया। कुछ जूनियर के साथ मारपीट भी की। गुरुवार को पीड़ित द्वितीय वर्ष के छात्रों ने दबी जुबान में बताया कि विद्युत एवं सिविल इंजीनिय¨रग शाखा के एक-एक छात्रों से सीनियर अश्लील प्रश्न पूछ रहे थे इसका विरोध करने पर मारपीट शुरू कर दिया। जिसमें दो जूनियर छात्रों को तमाचा जड़ दिया। स्थिति अनियंत्रित होते देख जूनियर छात्र अपनी सुरक्षा को लेकर देर रात जीरोमाइल थाना पहुंच गए। वे आधा दर्जन सीनियर छात्रों को नामजद कर कार्रवाई की मांग करने लगे। थाने के सामने सड़कों पर वाहनों की आवाजाही तक को अवरूद्ध कर दिया था। गुरुवार को कैम्पस में पीड़ित छात्र द्वारा आवेदन वापस लिए जाने की चर्चा जोरों पर थी। द्वितीय वर्ष के छात्रों में अपने सीनियर के प्रति भय मिश्रित आक्रोश देखने को मिला। इधर बीती रात तीन नंबर हास्टल में हुई रैगिंग की घटना के बाद गुरुवार को कॉलेज और पुलिस प्रशासन काफी मुस्तैद दिखी। जीरोमाइल पुलिस को लगातार कैम्पस में गश्त लगाते देखा गया। हालांकि रैगिंग की घटना के संबंध में प्राचार्य ने कहा कि उन्हें छात्रों ने इसकी कोई जानकारी नहीं दी है। बावजूद इसके मामले की स्क्रीनिंग की जा रही है।

द्वितीय वर्ष के छात्रों ने अपने जूनियर का किया स्वागत

जिस द्वितीय वर्ष के छात्रों के साथ उसके सीनियर द्वारा बुधवार की रात रैगिंग जैसी घटना को अंजाम दिया गया था वही द्वितीय वर्ष के छात्र गुरुवार को अपने नवनामांकित जूनियर के स्वागत में दिनभर व्यस्त दिखे। मौका था उनके पहले दिन कॉलेज आगमन का। मुख्य प्रवेश द्वार से लेकर स्वागत कक्ष को रंग-बिरंगे गुब्बारों से सजाया गया था, नए छात्र रैगिंग की घटना से निर्भीक होकर उन्मुखीकरण कार्यशाला में शिरकत करने अपने माता-पिता के साथ आए थे।

Advertisements