BHAGALPUR

विक्रमशिला खुदाई स्थल के पास बने फाइव स्टार होटल

कहलगांव के विक्रमशिला को विश्व पटल पर लाने और प्रसिद्ध पर्यटन केंद्र बनाने की पहल शुरू हो गयी है. राजभवन में राज्यपाल ने अन्य जगहों के अहम पर्यटक स्थल के साथ विक्रमशिला पर्यटन स्थल को विकसित करने का निर्देश दिया है. कहा गया कि विक्रमशिला खुदाई स्थल के पास पर्यटकों को रहने के लिए फाइव स्टार होटल, कैफेटेरिया आदि का निर्माण कराएं. इसको लेकर पास में पर्याप्त जमीन का अधिग्रहण करें.

 

खुदाई स्थल तक पर्यटक को पहुंचाने के लिए गंगा में मोटर बोट का परिचालन की सुविधा दें. मोटर बोट के माध्यम से पर्यटक को सुलतानगंज से कहलगांव तक पहुंचाया जाये. साथ ही वहां से उन्हें वातानुकूलित बस के जरिये खुदाई स्थल तक पहुंचाने की सुविधा भी दें. इन तमाम कामों को आनेवाले दिनों में जल्द पूरा करने का निर्देश दिया गया है, ताकि बौद्धिज्म के केंद्र रहे विक्रमशिला में पर्यटक की भीड़ बढ़े. विक्रमशिला के प्राचीन महत्व के प्रचार करने पर भी जोर दिया गया, जिससे वहां के बारे में देश-विदेश के लोग जान सकें.

 

विक्रमशिला खुदाई स्थल से जुड़े इनके दिन भी बहुरेंगे

 

विक्रमशिला खुदाई स्थल को देखने के लिए पर्यटकों को हवाई जहाज की भी सुविधा पर चर्चा हुई. कहा गया कि, वर्तमान हवाई अड्डा का विकास किया जाये. हवाई अड्डा की पट्टी को सुदृढ़ करने के लिए दो करोड़ आठ लाख की स्कीम स्वीकृत है. अभी 20 सीट वाले हवाई जहाज को तकनीकी रूप से उतरना ठीक नहीं है. रन-वे के ठीक होने से जहाज उतरने लगेगा. डीएम के माध्यम से भवन निर्माण विभाग को काम का टेंडर करने के लिए कहा गया है. इसको जल्द करवाने का निर्देश हुआ.

 

विक्रमशिला केंद्रीय विवि के लिए जमीन अधिग्रहण की रिपोर्ट तैयार

विक्रमशिला खुदाई स्थल के पास केंद्रीय विवि की जमीन देने के बारे में भी काम तेजी से हो. बताया कि जमीन अधिग्रहण का काम हो गया है, इसके कीमत का आकलन भू-अर्जन स्तर पर हो रहा है. पूर्व में 500 एकड़ और अब 200 एकड़ को लेकर जमीन अधिग्रहण चल रहा है. राज्य सरकार को जितनी जमीन की आवश्यकता होगी, उतना उपलब्ध कराया जायेगा.

 

पथ निर्माण को एनएच-80 के लंबित काम को पूरा करने का टास्क

विक्रमशिला खुदाई स्थल तक पहुंचने में सबसे बड़ी बाधक एनएच-80 पर भी चर्चा हुई. कहा गया कि एनएच की जर्जर हालत से भी वहां पहुंचने में कठिनाई होती है. पथ निर्माण विभाग को निर्देश हुआ कि सड़क मरम्मत का काम जल्द करवायें. साथ ही आरइओ को खुदाई स्थल तक पहुंचने वाली सड़क की चौड़ाई बढ़ाने को कहा गया है.

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *