बिहार में खाली होने वाली विधान परिषद की 11 सीटों के लिए सभी दलों ने अपने अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है. जनता दल यू ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, रामेश्वर महतो और खालिद अनवर के नाम की घोषणा की है. वहीं, बीजेपी ने उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय तथा पूर्व केन्द्रीय मंत्री और दलित नेता संजय पासवान को टिकट दिया है. कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ नेता प्रेमचंद मिश्रा को मैदान में उतारा है.

 

आरजेडी की तरफ से चार उम्मीदवारों की घोषणा हो चुकी है जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष रामचन्द्र पूर्वे, पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी के बेटे संतोष मांझी के साथ-साथ खुर्शीद मोहसिन ने पर्चा दाखिल किया है. राबड़ी देवी तीसरी बार विधान परिषद की सदस्य बनेंगी.

 

 

सभी पार्टियों ने समाजिक समीकरण को देखते हुए अपने-अपने प्रत्याशियों को उतारा है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, तीसरी बार विधान परिषद के सदस्य होंगे. मंगल पाण्डेय दुसरी बार परिषद के सदस्य बनने जा रहें हैं. संजय पासवान विधानसभा के साथ-साथ लोकसभा के सदस्य रह चुके हैं और केन्द्र में मंत्री भी रहे हैं. दलितों पर हो रही राजनीति को देखते हुए संजय पासवान को बीजेपी ने उम्मीदवार बनाया है. जनता दल यू ने एक कुशवाहा रामेश्वर महतो को टिकट दिया है. साथ में आरजेडी की तरह एक अल्पसंख्यक खालिo अनवर को भी उम्मीदवार बनाया है.

 

लंबे समय तक कांग्रेस के प्रवक्‍ता रहे प्रेमचंद मिश्रा को भी उम्‍मीदवार बनाया गया है. उम्‍मीदवार बनाये जाने के बाद प्रेमचंद मिश्रा ने पत्र लिखकर अध्‍यक्ष राहुल गांधी को धन्यवाद दिया. मिश्रा को उम्‍मीदवार बनाये जाने की पुष्टि प्रदेश प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने भी की. उम्‍मीदवार बनाये जाने के बाद प्रेमचंद मिश्रा के घर खुशी का माहौल है. उनके परिजन और समर्थकों ने राहुल गांधी के प्रति आभार जाताया.

 

मिश्रा ने कहा कि वे पार्टी की बातों को मजबूती से सदन में रखेंगे. जिस उम्‍मीद और उद्देश्य से मुझे विधान परिषद में भेजा जा रहा है, उसे पूरा करूंगा. कुछ वक्त पहले तक बिहार विधान परिषद में कांग्रेस की ताकत 6 सदस्यों की थी जो फिलहाल घटकर 2 पर आ गई है. पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी के नेतृत्व में चार विधान पार्षदों ने कांग्रेस छोड़कर जनता दल यूनाइटेड की सदस्यता ले ली है.

 

एक नए सदस्य को यहां भेजने से 75 सीटों वाली विधान परिषद में कांग्रेस की संख्या 3 हो जाएगी. बता दें कि जनता दल यू ने सीटिंग एमएलसी और पार्टी के प्रवक्ता संजय सिंह का टिकट इस बार काट दिया है.

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *