वैशाली:-दिवाली का पूजा समय पर नहीं करवाना एक पंडित जी को पड़ा महँगा,यजमान ने मारी गोली

वैशाली:-दिवाली का पूजा समय पर नहीं करवाना एक पंडित जी को पड़ा महँगा,यजमान ने मारी गोली

9th November 2018 0 By Kumar Ashwini

राघोपुर (वैशाली). दीपावली पूजन के लिए इंतजार कर रहे यजमान ने पहले तो पंडित जी के घर वालों को फोन कर अंजाम बहुत बुरा होने की धमकी दी। कुछ देर बाद एक दूसरे यजमान की दुकान का पूजा कराकर जैसे ही पंडित जी पहुंचे, तभी उन पर गोली चला दी गई। भाग्य ने पंडित जी का साथ दिया। गोली उनकी बांह में लगी। फतेहपुर पीएचसी में इलाज करा पंडितजी घर लौट गए।

दबंग यजमान के भय से उन्होंने एफआईआर दर्ज कराने की हिम्मत नहीं की। राघोपुर थानाध्यक्ष ने कहा है कि वारदात की जानकारी तो है पर पंडित व उनके परिवार के लोग ने कंप्लेन नहीं किया है। कंप्लेन होता है तो कार्रवाई की जाएगी। दीपावली की रात लक्ष्मी पूजा कराने में पंडित जी ने थोड़ा लेट किया तो यजमान ने नाराज होकर दीपावली की रात 12 बजे दूसरे दुकान से पूजा करा कर लौट रहे पंडित जी को गोली मार दी, जिससे पंडितजी घायल हो गए। गोली पंडित जी के बाएं हाथ मे लगी।जिसका इलाज पीएचसी फतेहपुर में कराया गया। घायल का उपचार के बाद डॉक्टर ने घर भेज दिया। हालांकि घायल व परिजनों द्वारा इस संबंध में राघोपुर थाना में आवेदन नहीं दिया गया है।

पंडित जी बोले-लक्ष्मी का पूजन तो पूरी रात होता है : पंडित मनीष चौबे ने बताया कि उन्हें दर्जनों यजमानों के घर में पूजन कराना था। वैसे भी लक्ष्मी-गणेश का पूजन पूरी रात होता है। एक-एक कर यजमानों के घर पूजा कराने में व्यस्त थे। स्थानीय हरिसिंह के कपड़ा दुकान में पूजा कर रहे थे। इसी दौरान गांव के राहुल सिंह ने मेरे घर पर फोन कर परिवार के लोगों को धमकी दी। तुरंत ही उन्होंने उनके मोबाइल पर फोन किया। वे गुस्से में थे। मैंने कहा कि पूजा संपन्न कराकर आ रहे हैं। वहां से निकलने ही वाले थे कि एक अन्य यजमान, गैस गोदाम संचालक मनोज सिंह रास्ते से ही बुलाकर अपने यहां ले गए। उनके यहां पूजा करा रात करीब 12 बजे राहुल सिंह के यहां बाइक से जा रहे थे, इसी दौरान अंधेरे में छुपे किसी व्यक्ति ने गोली चला दी। गोली उनके बाएं बांह में लगी। 

Advertisements