शराबबंदी कानून पर जीतन राम मांझी का बयान – ‘मेरी मां जिंदा होती तो आज जेल में होती’

14th June 2018 0 By Bibhav Kumar

जीतन राम मांझी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है (फाइल फोटो)
बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने आज नीतीश कुमार और बिहार सरकार पर हमला बोला है. जीतन राम मांझी ने खासकर शराबबंदी पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि बिहार का शराबबंदी कानून तालिबानी है.
पटना: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने आज नीतीश कुमार पर हमला बोला है. जीतन राम मांझी ने खासकर शराबबंदी पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि बिहार का शराबबंदी कानून तालिबानी है.

साथ ही उन्होंने ये भी कहा शराबबंदी कानून के कारण गरीब और निर्दोष लोग जेल में हैं जबकि बड़े-बड़े माफिया कानून की पकड़ में नहीं आ रहे हैं. इसके साथ ही मांझी ने चुटकी लेते हुए कहा कि अगर मेरी जिंदा होती तो आज जेल में होती. मेरी मां पूजा के दौरान देवी-देवता को शराब चढ़ाती थी और शराबबंदी कानून की वजह से वो जेल में होती.

जीतन राम मांझी ने सिर्फ शराबबंदी नहीं बल्कि कई अन्य मुद्दों पर नीतीश सरकार को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा है कि बिहार में बुराइयों के खिलाफ आवाज उठाने वालों को नक्सली बताकर सरकार परेशान करती है. साथ ही जीतन राम मांझी ने मांग की है संविधान में संसोधन करके आरक्षण के दायरे 49 फीसदी से बढ़ाकर 85 फीसदी कर दी जाए.

उन्होंने कहा है कि कुछ जातियों को SC के दायरे में लाकर नीतीश कुमार वोट की राजनीति कर रहे हैं. इसी को लेकर उऩ्होंने रामविलास पासवान पर भी निशाना सधा और कहा कि रामविलास पासवान की केंद्र में बिल्कुल भी नहीं चलती है. दलित उत्पीड़न कानून में देरी इस बात इस बात का प्रमाण है. आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले जीतन राम मांझी ने कहा था कि तेजस्वी यादव उनसे बड़े नेता हैं और वो उन्हें अगले सीएम के रूप में देखते हैं. खुद के बारे में बताते हुए हिन्दुस्तान आवाम मोर्चा (हम) प्रमुख मांझी ने कहा था कि मेरा कद अभी राष्ट्रीय स्तर का नहीं है.

Advertisements