दो अपराधी गिरोहों के बीच वर्चस्व को लेकर हुई मुठभेड़ में रणवीर सेना के पूर्व एरिया कमांडर धनजी सिंह सहित तीन लोग मारे गए। घटना मंगलवार देर शाम मुफस्सिल थाना क्षेत्र के दुर्गापुर गांव के बाहर सोन उच्च स्तरीय नहर पर घटी जहां धनजी सिंह व पप्पू सिंह गिरोह के बीच 100 चक्र से अधिक गोलियां चलीं।
घटना में कई लोगों को घायल होने की भी सूचना है। पुलिस को घायलों का पता नहीं चला है। मरने वालों में नोखा थाने के नारन निवासी धनजी सिंह के अलावा इसी थाना क्षेत्र के कुरी के शशिकांत तिवारी और भोजपुर जिले के सहेजनी गांव के मंटू सिंह शामिल हैं। पुलिस ने घटनास्थल की घेराबंदी कर रखी है।
घटना की सूचना मिलने के बाद डीएसपी आलोक रंजन के नेतृत्व में सासाराम टाउन, मुफस्सिल, नोखा, बघेला व राजपुर थाना की पुलिस घटनास्थल की घेराबंदी किए हुए है। घटना के बाद पूरे जिले में सनसनी फैल गई। रणवीर सेना के पूर्व कमांडर पर कई नरसंहार का भी मामला चल रहा है। हाल के दिनों में प्रतिबंधित हथियार रखने के आरोप में गिरफ्तार धनजी सिंह दो माह पहले जमानत पर जेल से रिहा हुआ था । रोहतास में बालू खनन बंद होने के बाद हो रहे अवैध बालू खनन पर वर्चस्व को लेकर रंजीत सिंह व पप्पू सिंह के बीच एक माह पूर्व में घटनास्थल पर ही गोलीबारी हुई थी। घटना के संबंध में डीएसपी ने बताया कि मरने वालों में धनजी सिंह की पहचान हुई है। एक मृतक धनजी सिंह का मामा बताया जा रहा है जो हमेशा उसके साथ रहता था। पुलिस को घटनास्थल के आसपास से कई खोखा मिले हैं। पुलिस गांवों की घेराबंदी कर छापेमारी करने शवो को उठाने में लगी हुई है ।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *