सीतामढ़ी : मुंशी हत्याकांड में पुलिस ने चार आरोपियों को घातक हथियार के साथ किया गिरफ्तार

सीतामढ़ी : मुंशी हत्याकांड में पुलिस ने चार आरोपियों को घातक हथियार के साथ किया गिरफ्तार

12th January 2019 0 By Satyavrat Singh

सीतामढ़ी : बिहार के सीतामढ़ी जिले के महिंदवारा थाने कुंडल गांव में सड़क निर्माण कर रही कंस्ट्रक्शन कंपनी के मुंशी विनोद राय की हत्या के मामले में स्पेशल टीम ने एके-56 के साथ चार शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है. पुलिस का दावा है कि मुंशी की हत्या में इसी एके-56 ऑटोमेटिक राइफल का इस्तेमाल किया गया था, जिसे सरोज गिरोह के एक बदमाश दिलशाद के बेलसंड थाना क्षेत्र के दरियापुर स्थित घर से बरामद किया गया है. पूछताछ में एक अपराधी ने खुलासा किया है कि सरोज गिरोह के पास एके-47 भी है, जो मणिपुर के इंफाल से छह माह पहले खरीद कर लायी गयी है.

शुक्रवार को समाहरणालय स्थित अपने कार्यालय कक्ष में एसपी सुजीत कुमार ने बताया कि दिलशाद के घर से ही जयशंकर राय को गिरफ्तार किया गया है. दोनों की गिरफ्तारी के बाद तलाशी के क्रम में मुंशी की हत्या में उपयोग किये गये एके-56 ऑटोमेटिक राइफल, एक खोखा व 9 एमएम का जिंदा कारतूस, यामाहा कंपनी की एफजेड बाइक व एक मोबाइल बरामद किया गया. चारों बदमाशों ने मुंशी हत्याकांड में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है. उनसे मिली जानकारी के बाद गिरोह का सरगना व उसके गुर्गों की गिरफ्तारी के लिए संभावित स्थानों पर पुलिस छापेमारी कर रही है.

पुलिस ने गिरफ्तार चारों बदमाश को न्यायिक हिरासत में पेश करने के साथ-साथ रिमांड पर देने का आग्रह न्यायालय से किया. न्यायालय को चारों शातिर बदमाशों के संगीन अपराधों की जानकारी न्यायालय को दी गयी है. इसमें दिलशाद को बेलसंड थाना कांड संख्या 5/19 व शेष तीनों बदमाश को महिंदवारा थाना कांड संख्या 6/19 में रिमांड पर देने का आग्रह किया गया है.

सद्दाम की निशानदेही पर छापेमारी

मुंशी विनोद राय की हत्या के बाद बदमाशों के खुफिया ठिकानों की तलाश एसपी सुजीत कुमार के नेतृत्व में विशेष टीम गोपनीय तरीके से कर रही थी. पुलिस की गतिविधि खामोश देख बदमाशों ने दूसरी घटना को अंजाम देने के लिए एक-दूसरे से संपर्क करना शुरू किया. बदमाशों के बाहर निकलने का इंतजार कर रही पुलिस की नजर में सद्दाम आ गया. गुरुवार को सद्दाम को गिरफ्तार करने के बाद उसकी निशानदेही पर पुलिस ने एके-56 के साथ चार बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया.

Advertisements