सुरक्षित है BSF जवान तेज बहादुर, पत्नी ने जम्मू में की मुलाकात… 


सोशल मीडिया पर खाने की खराब गुणवत्ता के बारे में वीडियो जारी करने वाले बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव अपने कैंप में सुरक्षित है। हाइकोर्ट में बुधवार को तेज बहादुर की पत्नी शर्मिला देवी ने यह जानकारी दी है। हाईकोर्ट के आदेश पर उसने जम्मू स्थित बटालियन कैंप में अपने पति से मुलाकात की। शर्मीला ने कहा कि वह संतुष्ट है कि उसका पति सुरक्षित है।
न्यायमूर्ति जी.एस सिस्तानी व विनोद गोयल की पीठ ने शर्मिला का पक्ष सुनने के बाद उसकी याचिका का निपटारा कर दिया। सुनवाई के दौरान बीएसएफ के अधिवक्ता गौरव कंठ ने अदालत को बताया कि तेज बहादुर यादव ने नया मोबाइल खरीद लिया है। उस पर अपने परिवार से बात करने पर कोई रोकटोक नहीं है। उन्होंने कहा कि जिस फोन से उसने सोशल मीडिया में वीडियो अपलोड किया था उसे जांच के लिए जब्त किया गया है।
10 फरवरी को हाई कोर्ट ने बीएसएफ को निर्देश दिया था कि शर्मिला को अपने पति से मिलने व उसे दो दिन उसके साथ रहने दें। तेज बहादुर यादव द्वारा जवानों को घटिया खाने संबंधी विडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद काफी हंगामा हो गया है। शर्मिला ने हाई कोर्ट में बंदीप्रत्यक्षीकरण याचिका दायर की थी।
याचिका में यादव की जान को खतरा बताते हुए आरोप लगाया गया था कि वरिष्ठ अधिकारियों ने उसे बंधक बना लिया है। ऐसे में अधिकारियों को निर्देश दिया जाए कि यादव को अदालत के समक्ष पेश किया जाए।
याचीका में आरोप था कि जब से यादव ने घटिया खाने का मुद्दा उठाया है तब से उसे प्रताड़ित किया जा रहा है। इतना ही नहीं उसने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति मांगी थी, उस आवेदन को भी खारिज कर दिया गया है। ऐसे में निर्देश दिया जाए कि यादव को इस अदालत के समक्ष पेश किया जाए। गृह मंत्रालय व बीएसएफ ने बताया था कि यादव लापता नहीं है और उसे केवल 88 बटालियन, जम्मू कश्मीर के काली बाड़ी, सांबा स्थित बटालियन मुख्ययालय में स्थानांतरित कर दिया गया है। सभी आरोप बेबुनियाद हैं।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *