हनीट्रैप में फंसकर बना ISI का गुलाम, सेना की कई खुफिया जानकारी किया लीक

हनीट्रैप में फंसकर बना ISI का गुलाम, सेना की कई खुफिया जानकारी किया लीक

16th April 2018 0 By Kumar Aditya

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI के हनीट्रैप में फंसे सोनीपत के एक युवक को भारतीय सेना संवेदनशील सूचनाएं लीक करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपी युवक कई सालों से सेना में भर्ती के लिए तैयारी कर रहा था।

हरियाणा पुलिस ने सोमवार को आरोपी युवक गौरव कुमार गिरफ्तार किया जो सोनीपत जिले के गनौर ब्लॉक का रहने वाला था। आरोपी को राज्य की खुफिया एजेंसी की सूचनाओं के आधार पर गिरफ्तार किया गया। रोहत के एसपी पंकज नैन ने बताया कि आरोपी के खिलाफ ऑफिशियल सेक्रेट एक्ट समेत कई धाराओं में मामला दर्ज किया गया।

फेसबुक के जरिए हुई थी दो महिलाओं से दोस्ती-

रोहतक पुलिस ने मीडिया को जानकारी दी युवक काफी समय से सेना में भर्ती की तैयारी कर रहा था। इसी दौरान फेसबुक पर उससे दो महिलाओं से दोस्ती हुई। इन महिलाओं से दोस्ती हुए करीब डेढ़ साल हो गए थे। अब दोनों महिलाएं आरोपी युवक से रोजाना बात करने लगी थीं। महिलाओं से युवक ने बता रखा था कि वह सेना में काम करता है। इसके बाद महिलाएं उससे सेना के कैंप, लोकेशन और सैनिकों की तैनाती आदि को लेकर फोटो वीडियो आदि मांगती रहती थीं। इसके बदले में युवक को को मोटी रकम देने का वादा भी किया था। युवक महिलाओं से दोस्ती निभाने के चक्कर में जहां भी भर्ती देखने जाता वहां कैंप की फोटो और वीडियो बना लेता और उनको सोशल मीडिया के जरिए शेयर कर देता।

इन दोनों महिलाओं के नाम भारतीय जैसे- सोनू कौर और अमिता अहलुवालिया था। लेकिन जब दोनों की लोकेशन ट्रैस की गई तो पता चला कि दोनों पाकिस्तान में हैं और आईएसआई के लिए काम कर रही हैं। युवक को भी इस बात की जानकारी हो चुकी थी कि लड़कियां आईएसआई के लिए काम कर रही हैं। इसके बाद लड़कियों ने युवक को सूचनाएं देने के बदले 10 लाख रुपए देने को कहा था। लड़कियों ने इसके लिए फेसबुक पर ही युवक का अकाउंट नंबर भी ले लिया था। लेकिन पैसे खाते में ट्रांसफर होते कि इससे पहले ही युवक गिरफ्तार कर लिया गया।

फोन की जांच कर रही पुलिस-

पुलिस ने आरोपी के मोबाइल को कब्जे में ले लिया है और उसकी जांच कर रही है। युवक अब 18 भर्तियां देख चुका था। सूचानाएं चोरी करने के चक्कर में वह किसी भर्ती में जाने से नहीं चूकता था। पुलिस ने बताया कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी के एजेंट भारतीय लड़कियों के नाम से फर्जी फेसबुक आईडी बनाते हैं फिर लोगों को लालच देकर अपने जाल में फंसाते हैं।

Advertisements