90 प्रतिशत एटीएम बिन कैश के, रुपये के लिए हांफ रहे लोग

शहर की अधिकतर एटीएम खाली हो चुकी है। रविवार को दिनभर शहरवासी रुपये निकालने के लिए चक्कर काटते रहे। बैंकों में नोटों की कमी बताई जा रही है। साथ ही करेंसी चेस्ट में भी तीन से चार दिनों का ही स्टॉक है। जिले में कुल 667 एटीएम हैं, इनमें से 600 में रुपये नहीं हैं। करेंसी चेस्ट के आगे कैश मैनेजमेंट सर्विस देने वाले वाहन अब खड़े होने लगे हैं। सिर्फ आदमपुर, विश्वविद्यालय, छोटी खंजरपुर स्थित एसबीआई मेन ब्रांच, राधा रानी सिन्हा रोड, कचहरी व तिलकामांझी चौक क्षेत्र में करीब दो दर्जन ऐसे एटीएम हैं, जहां रुपये हैं। बैंक से जुड़े एक अधिकारी ने बताया कि जैसे-जैसे एटीएम खाली होती जाएगी, वैसे-वैसे लोग रुपये निकालने बैंक जाने लगेंगे। संकट को देखते हुए ग्राहकों के जरूरत से ज्यादा निकासी की उम्मीद है। हो सकता है कि तीन से चार दिन का स्टॉक जो करेंसी चेस्ट में है, वह एक से दो दिनों में खत्म हो जाए। आज बैंक अधिकारियों के साथ करेंगे विमर्श: एलडीएमएलडीएम भागलपुर चंद्रशेखर साह ने कहा कि सोमवार को वे बैंक अधिकारियों के साथ विमर्श करेंगे। सुरक्षा से लेकर नोट की संकट पर चर्चा होगी। इसके बाद बैंक के उच्चाधिकारियों को पत्र या ई-मेल भेजकर मामले से अवगत कराएंगे। बुधवार को फिर रिजर्व बैंक व बैंक अधिकारियों को त्राहिमाम संदेश भेजा जायेगा।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *