पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह की तैयारी अंतिम दौर में है। मुख्यमंच लगभग बनकर तैयार है। प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर पूरा सायंस कॉलेज गुलजार हो गया है। पीएमओ ऑफिस से विश्वविद्यालय को कार्यक्रम का शेड्यूल भेज दिया गया है। इसके अनुसार 11 बजे से लेकर 12 बजकर 15 मिनट तक सायंस कॉलेज में प्रधानमंत्री रहेंगे।

कार्यक्रम को देखते हुए प्रशासनिक अमला का जमघट दिनभर कॉलेज कैंपस में लग रहा है। हर तरह की तैयारियों की देख-रेख हो रही है। केन्द्रीय और स्थानीय प्रशासन एक-एक चीज की मॉनिटरिंग कर रही है।

छह तरह के बनाए जा रहे इंट्री पास : शताब्दी समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम में भाग लेने के लिए छह तरह के इंट्री कार्ड बनाए गए हैं। इसमें वीवीआईपी को एक अलग श्रेणी में रखा गया। इसमें केन्द्रीय मंत्री, एमपी, एमएलसी, राज्य के मंत्री को रखा गया। वहीं, दूसरे स्थान पर ब्यूरोक्रेट के लिए अलग कार्ड बनाया गया है। तीसरे श्रेणी में पटना विश्वविद्यालय के स्पेशल गेस्ट बड़े ओहदे वाले पूर्ववर्ती छात्रों को जगह दी गयी है। चौथे स्थान पर विवि के शिक्षकों, 5वें स्थान पर कर्मियों को रखा गया है। वहीं छठे स्थान पर छात्र-छात्रओं को रखा गया है।

छह गेट से होगी सभी की इंट्री : पटना विश्वविद्यालय में अलग-अलग मेहमानों के लिए अलग-अलग इंट्री प्वाइंट बनाए गए हैं। वीवीआईपी की इंट्री सायंस कॉलेज के पहले गेट यानी कैमेस्ट्री गाउंड से होगी। यहां पर पार्किंग की व्यवस्था की गयी है। इनकी इंट्री जिम्नाजियम के गेट से होगी। इसी तरह से शिक्षकों व कर्मियों की इंट्री सायंस कॉलेज के मुख्य गेट से आगे से होगी। यहां पर दो गेट बनाए हैं। इनकी गाड़ी की पार्किंग पटना कॉलेज में होगी। वहीं छात्रों की इंट्री एनआईटी के पास होगी।

सत्यापाल सिंह व रविशंकर प्रसाद भी होंगे : पटना विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह में शामिल होने के लिए केन्द्रीय मानव संसाधन राज्यमंत्री सत्यपाल सिंह (उच्च शिक्षा) ने भी समारोह में शामिल होने के लिए अनुमति प्रदान कर दी है। इनके अलावा केन्द्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद सिंह की अनुमति मिल गयी है। प्रधानमंत्री के अलावा मंच पर राज्यपाल सत्यपाल मलिक, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, केन्द्रीय रामविलास पासवान, केन्द्रीय मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा, केन्द्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे, शिक्षामंत्री कृष्णनंदन वर्मा, कुलपति रासबिहारी सिंह और प्रति कुलपति डा. डॉली सिन्हा का नाम है।

72 घंटे पहले हो जाएगा सील : सायंस कॉलेज को प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते हुए 72 घंटे पहले सील कर दिया जाएगा। इसमें किसी तरह की इंट्री पर रोक लगा दी जाएगी। सिर्फ जरूरी प्रशासनिक पदाधिकारियों और विश्वविद्यालय के पदाधिकारियों की इंट्री होगी।

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *