Advertisements

RBI ने मनी ट्रांसफर को लेकर दी ये मंजूरी Paytm यूजर्स के लिए बड़ी खुशखबरी

अगर आप ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए मोबाइल वॉलेट का यूजकरते हैं तो अब आपके लिए ये बड़ी खबर है. अब जल्द ही मोबाइल वॉलिट्स जैसे प्री-पेड इंस्ट्रूमेंट्स के बीच आपस में मनी ट्रांसफर हो सकेगा. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने मंगलवार को इसके लिए अंतिम गाइडलाइन्स जारी की हैं. आरबीआई ने कहा है कि डिजिटल वॉलिट कंपनियां चाहें तो अब सरकार समर्थित पेमेंट नेटवर्क का प्रयोग कर सकती हैं, जिससे इन कंपनियों के बीच आपस में तुरंत भुगतान हो सकेगा. इसका मतलब है कि अगर आप पेटीएम से फोन पे वॉलेट में पैसा ट्रांसफर करना चाहते हैं तो ये आप कर सकेंगे.

RBI के एक नोटिफिकेशन के मुताबिक, केवाईसी का पालन करने वाले सभी PPIs के बीच पारस्परिकता को इन तीन चरणों में लागू किया जाना था 

  1. यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) वाले वॉलिट्स के तौर पर जारी PPIs के बीच आपस में मनी ट्रांसफर
  2. UPI के जरिए बैंक अकाउंट और वॉलिट के बीच आपस में मनी ट्रांसफर
  3. कार्ड नेटवर्क के जरिए कार्ड्स के तौर पर जारी PPIs के बीच आपस में मनी ट्रांसफर 
    अपने दिशा-निर्देशों में RBI ने कहा कि PPIs के बीच पारस्परिकता UPI के जरिए लागू होगी. इसके अलावा प्री-पेड कार्ड्स को ऑथराइज्ड कार्ड नेटवर्कों से जोड़ना होगा. देश में करीब 50 कंपनियों के पास प्री-पेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट (PPI, डिजिटल वॉलिट) के लाइसेंस हैं.  
    मोबाइल वॉलिट्स के बीच भुगतान के लिए आरबीआई ने अब तक कोई न्यूनतम चार्ज लागू नहीं किया है. ऐसे में माना जा रहा है कि आईबीआई के इस कदम से देश में डिजिटल पेमेंट्स को बढ़ावा मिलेगा. ऐसा होने से भारत में डिजिटल पेमेंट्स का ग्रोथ रेट तेजी से बढ़ेगा. साथ ही बिजनस के भी ज्यादा मौके दिखाई देंगे.
Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *