दिल्ली के रामलीला मैदान में रविवार को हुई विपक्षी गठबंधन की महारैली में पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान भी शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने गठबंधन के नेताओं का शुक्रिया अदा किया।

रविवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ की महारैली हुई. इस रैली में विपक्षी दलों के तमाम नेता शामिल हुए. आम आदमी पार्टी ने इस रैली को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी के विरोध में बताया. तो वहीं कांग्रेस ने इसे लोकतंत्र बचाओ रैली नाम दिया. रैली में शामिल होने के लिए आए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने भी केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा।

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि इंडिया गठबंधन के नेताओं का शुक्रिया, जिन्होंने केजरीवाल जी के जेल जाने के बाद हमारा हौसला बढ़ाया. उन्होंने कहा कि ये देश किसी के बाप की जागीर नहीं है. यह देश 140 करोड़ लोगों का देश है. आजादी भगत सिंह, चंद्रशेखर जैसे क्रांतिकारियों ने दिलाई है. किसी को जेल भेज दो किसी के खाते फ्रीज कर दो।

इंडिया गठबंधन के दौरान भगवंत मान ने कहा कि, “ये आज़ादी हमें भगत सिंह, चन्द्रशेखर आज़ाद ने दी. इस आज़ादी के लिए उन्होंने अपने प्राणों की आहुति दे दी. ये आज़ादी किसी की ‘बाप की जागीर’ नहीं है. भगवंत मान ने आगे कहा कि, “मालिक देश की 140 करोड़ जनता हैं. सुनीता केजरीवाल, कल्पना जी यहां हैं, सोनिया गांधी यहां हैं. उन्होंने अपने जीवन में सब कुछ देखा है।

अरविंद केजरीवाल एक सोच का नाम- भगवंत मान

भगवंत मान ने कहा कि अरविंद केजरीवाल को तो गिरफ्तार कर लोगे, लेकिन उसकी सोच को गिरफ्तार कैसे करोगे, जो लाखों अरविंद केजरीवाल देश में पैदा हो चुके हैं उनके जेल में कैसे कैद करोगे. भगवंत मान ने कहा कि अरविंद केजरीवाल कोई एक व्यक्ति नहीं है अरविंद केजरीवाल एक सोच का नाम है. पंजाब के मुख्यमंत्री मान ने कहा कि इंडिया गठबंधन इकट्टे हैं हम सब इकट्टे हैं. मेरे खयाल से तो कईयों के कैमरे भी कांपने लगे होंगे कि ये इकट्ठे कैसे बैठ गए. ये चाहते नहीं हैं कि हम इकट्ठे बैठें।

भगवंत मान ने कहा कि मैं सबसे कहना चाहता हूं कि हम सब इकट्ठे हो जाएंग और इन भ्रष्टाचारियों को कह दो कि भगवंत मान ने बोला था कि जितने मर्जी इकट्टे कर लो पैसे हीरे मोती, बस खयाल इतना रहे कि कफन पे जेब नहीं होती।