• Sat. Dec 10th, 2022

तिलकामांझी थानेदार चंद्र शर्मा की पत्नी बोली.. मेरे पति की हत्या हुई है, पुलिस करें निष्पक्ष जांच। 

ByAditya

Apr 3, 2017


मेरे पति की हत्या हुई है। दुर्घटना का कोई साक्ष्य नहीं मिल रहा है। घटना की निष्पक्ष जांच हो तभी सच्चाई का खुलासा हो सकता है। पति के कई दुश्मन थे। वे छोटी-छोटी बातों को वरीय अधिकारी के सामने शेयर नहीं करते थे।
घटना के सप्ताह दिन पहले हवाई अड्डे पर अपराधियों ने पति पर गोलियां चलाईं थी। तिलकामांझी थानेदार रहे विजय चंद्र शर्मा की पत्नी प्रियंका शर्मा ने सोमवार को भागलपुर लौटने के बाद यह बातें कही।प्रियंका ने कहा कि 19 मार्च की देर रात थाने से घर नहीं लौटने पर निजी नंबर पर लगातार फोन किया जा रहा था। कभी स्विच ऑफ तो कभी नोट रिचेवल बताया जा रहा था। सरकारी नंबर भी नहीं उठा रहे थे। लगा कि पति कहीं छापेमारी कर रहें होंगे। 3 बजकर 10 मिनट पर फोन लगाया गया तो सरकारी मोबाइल किसी ने रिसिव किया। बताया कि हवाई अड्डे पर विजय चंद्र शर्मा का एक्सीडेंट हो गया है। वह परेशान हो गईं और रात में स्कूटी से ही हवाई अड्डा पहुंच गई। रनवे पर पति कि लाश पड़ी थी और वहीं पर क्षतिग्रस्त स्कार्पियो भी पड़ा था। प्रियंका ने सवाल किया कि जल्दबाजी में शव को क्यों उठाकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। परिवार वालों का इंतजार किया जाना चाहिए था। रात में ही स्कार्पियो को खींचकर पुलिस केन्द्र मंगवा लिया गया। घटनास्थल को भी पानी से साफ कर दिया गया। उन्होंने कहा कि दुर्घटना मानकर घटना को तुरंत रफादफा कर दिया गया। जबकि एक दारोगा की संदेहास्पद स्थिति में मौत पर हर बिंदु पर जांच होनी चाहिए थी।