• Sat. Dec 10th, 2022

बिहार में आ रही हरियाणा व झारखंड से शराब, EOU के रडार पर दो दर्जन माफिया

ByAditya

May 2, 2017


बिहार में पूर्ण शराबबंदी के बावजूद झारखंड और हरियाणा के शराब माफिया यहां लगातार शराब की आपूर्ति कर रहे हैं। बिहार में नगर निकाय चुनावों को लेकर बिहार पुलिस की आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) ने शराब के सप्लाइ लाइन को ध्वस्त करने की रणनीति बनाई है।

झारखंड और हरियाणा के ऐसे माफिया के खिलाफ बिहार सरकार अब उनके ही राज्य के कानून को हथियार बनाकर उन्हें सजा दिलाएगी। ईओयू ने हरियाणा के ऐसे आधा दर्जन बड़े शराब कारोबारियों को अपने रडार पर लेकर उनके खिलाफ कार्रवाई की तैयारी की है। इनकी गिरफ्तारी के लिए ईओयू की टीम को हरियाणा और झारखंड भेजा जा रहा है।

ईओयू ने इस साल हरियाणा से बिहार के विभिन्न जिलों में भेजी गई विदेशी शराब की दो दर्जन से ज्यादा कंसाइनेमेंट बरामद किए हैं। बरामद शराब करीब ढाई हजार कार्टन है। इसका बाजार मूल्य डेढ़ करोड़ से भी अधिक बताया जा रहा है।

बरामद शराब से लदे ट्रकों से गिरफ्तार ड्राइवर और खलासी के स्वीकारोक्ति वाले बयानों के आधार पर ईओयू ने उन शराब माफियाओं की पहचान भी कर ली है जो बिहार में शराबबंदी के बावजूद इसकी लगातार आपूर्ति कर रहे हैं। इनमें हरियाणा के गुडग़ांव के दो शराब कारोबारी योगेंद्र सेहरावत और उसका पुत्र धीरज सेहरावत भी शामिल है।

ईओयू के सूत्रों ने बताया कि इस शराब कारोबारी के तीन ट्रक बिहार के मुजफ्फरपुर, कैमूर और गोपालगंज में पिछले 20 दिनों के अंदर पकड़े जा चुके हैं। अब ईओयू की एक टीम को हरियाणा के गुडग़ांव रवाना किया जा रहा है। बता दें कि हरियाणा में भी शराब की तस्करी को लेकर सख्त कानून हैं।

बिहार पुलिस ने योगेंद्र सेहरावत व धीरज सेहरावत के संबंध में हरियाणा पुलिस को भी सारी जानकारी उपलब्ध करा दी है। साथ ही इनकी गिरफ्तारी के लिए संबंधित अदालतों से वारंट भी जारी कराया जा चुका है।
इसी तरह, ईओयू ने झारखंड के कोडरमा स्थित एक बड़े शराब कारोबारी की गिरफ्तारी के लिए भी अपनी एक विशेष टीम का गठन किया है। पिछले दिनों बिहार एसटीएफ की टीम ने कोडरमा में शराब कारोबारी के ठिकानों पर छापेमारी कर करीब तीन ट्रक ऐसी विदेशी शराब जब्त की थी जिसे बिहार भेजा जा रहा था। साथ ही इस शराब कारोबारी द्वारा बिहार भेजी गई शराब की तीन ट्रक पटना के फतुहा, बख्तियारपुर जैसे ग्रामीण क्षेत्रों से बरामद की जा चुकी है।