भारतीय जनता पार्टी ने ओडिशा विधानसभा चुनाव के लिए जारी की अपने प्रत्याशियों की सूची, देखें पूरी सूची।

लोकसभा चुनाव के साथ-साथ इस बार कुछ राज्यों के विधानसभा चुनाव में आयोजित किए जा रहे हैं. इसी कड़ी में ओडिशा विधानसभा चुनाव भी शामिल हैं. इसी को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने अपने प्रत्याशियों की सूची जारी की है. मंगलवार 2 अप्रैल को पार्टी की ओर से अपने उम्मीदवारों का ऐलान किया गया. इससे पहले भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव के लिए भी अपनी पार्टी के तीन उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया था. आइए जानते हैं इस बार 112 विधानसभा सीट के लिए बीजेपी ने किन उम्मीदवारों को टिकट दिया है. बता दें कि ओडिशा विधानसभा में कुल 147 सीट हैं।

सीएम नवीन पटनायक के सामने BJP ने इस कैंडिडेट को उतारा
बीजेपी ने मंगलवार को अपने विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की जो सूची जारी की है उसके तहत हिंजिली विधानसभा सीट जो मुख्यमंत्री नवीन पटनायक का गढ़ मानी जाती है वहां से सीएम पटनाटक के मुकाबले में जगन्नाथ प्रधान को चुनावी मैदान में उतारा है।

पदमपुर सीट से जहां गोवर्धन भुए चुनावी मैदान में हैं, वहीं राजगंगापुर से नरसिंह मिंज को टिकट मिला है. संबलपुर से जयनारायण मिश्र बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे, वहीं बोनाई से संबती नायक चुनावी मैदान में हैं. झारसुगुडा से टंकधर त्रिपाठी, बीजेपुर से सनत कुमार गर्तिया, बारगढ़ से अश्विनी कुमार सारंगी, भटली से झरासिस आचार्य विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं।

बीजू जनता दल भी जारी कर चुकी लिस्ट
विधानसभा चुनाव के लिए बीजद भी अपने प्रत्याशियों की सूची जारी कर चुकी है. बीजद भी प्रदेश की सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है. जबकि लोकसभा की 9 सीट के लिए भी पार्टी ने अपने प्रत्याशियों का ऐलान किया है. बता दें कि इस बार चार दिन में ही बीजेडी के चार नेताओं ने पार्टी छोड़ दी है।

बीजेपी ने इन 3 नेताओं को दिया लोकसभा का टिकट
भारतीय जनता पार्टी ने ओडिशा से लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए बीजद के साथ गठबंधन के तहत 3 सीट पर ही अपने प्रत्याशियों को मैदान में उतारा है. इनमें डॉ. रबिन्द्र नारायण बेहरा जाजपुर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं, जबकि कंधमाल पर सुकांत कुमार पाणिग्रही और भर्तृहरि महताब को कटक लोकसभा सीट से टिकट दिया है।

ओडिशा में क्या थी पिछला चुनावी नतीजा
ओडिशा विधानसभा के 2019 के परिणामों की बात करें तो इसमें सबसे ज्यादा सीट बीजद को मिली थी. बीजेडी ने 112 सीट पर जीत दर्ज की थी, जबकि बीजेपी को 23 सीट पर जीत मिली थी. वहीं तीसरे नंबर कांग्रेस रही पार्टी ने 9 सीट पर सफलता प्राप्त की थी. इसके अलावा सीपीएम के एक विधायक ने भी जीत दर्ज की थी. वहीं एक निर्दलयी भी इस चुनाव में जीता था।