अगर आप मध्यप्रदेश के निवासी है साथ ही पढ़ने-लिखने के बाद भी आपको जॅाब नहीं मिली है तो खबर आपके काम की हो सकती है। क्योंकि राज्य में मुख्यमंत्री कौसल कमाई योजना के नाम से स्कीम संचालित है।

मुख्य तथ्य

  • कुछ नियम व शर्तों को पूरा करने के बाद पात्र आवेदकों को मिलती है आर्थिक मदद
  • मध्यप्रदेश की विगत सरकार ने शुरू की थी योजना
  • जानकारी के अभाव में पात्र युवा भी नहीं ले पा रहे योजना का लाभ

अगर आप मध्यप्रदेश के निवासी है साथ ही पढ़ने-लिखने के बाद भी आपको जॅाब नहीं मिली है तो खबर आपके काम की हो सकती है. क्योंकि राज्य में मुख्यमंत्री कौसल कमाई योजना के नाम से स्कीम संचालित है.जिसमें आवेदन करके आप 8000 रुपए प्रतिमाह तक की कमाई कर सकते हैं.  हालांकि इसके लिए सरकार ने कुछ नियम व शर्त भी रखी हैं. जिन्हें पूरा करने के बाद ही आप योजना का लाभ लेने के लिए पात्र माने जाएंगे. आपको बता दें कि मुख्यमंत्री युवा कौसल कमाई योजना सरकार ने बेरोजगारों को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से शुरू की थी. प्रदेश के लाखों युवा इसका लाभ भी ले रहे हैं।

क्या है पात्रता? 
स्कीम का  लाभ लेने के लिए आपको मध्य प्रदेश का निवासी होना आवश्यक है. साथ ही आपने कम से कम इंटर पास की होना चाहिए. इसके अलावा आप पूरी तरह से बेरोजगार  होना चाहिए. यानि किसी भी श्रोत से आपको इनकम नहीं होनी चाहिए. आवेदन के लिए आपके पास इंटर की मार्कसीट, आधार कार्ड व पेन कार्ड होना अनिवार्य है. योजना के तहत आवेदन ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों की ही तरीके से किया जा सकता है. यदि आप मुख्यंत्री युवा कौसल कमाई योजना के लिए आपको पात्र मानते हैं तो तत्काल आवेदन कर स्कीम का लाभ ले सकते हैं. आपके डॅाक्यूमेंटेशन के वेरिफिकेशन के बाद आपको योजना का  लाभ मिलने लगेगा।

ये मिलता है लाभ
आपको किसी एक ट्रेड में निशुल्क ट्रेनिंग मिलेगी. इसके बाद लाडली बहना योजना की तरह ट्रेनिंग पाए बेरोजगार युवक प्रतिमाह 8 हजार रुपए की कमाई कर सकते हैं. यही नहीं कमाई की धनराशि बढ़ाई भी जा सकती है. योजना को शुरू करने के पीछे सरकार उद्देश्य है कि किसी भी युवा को निठल्ला नहीं बनाना है. कौसल कमाई योजना के तहत युवाओं की स्किल मजबूत होगी. जिसके बाद वे अपने दम पर अपना घर चला सकेंगे. ट्रेनिंग के दौरान आपको प्रतिमाह सरकार की ओर से पैसे मिलेंगे. साथ ही ट्रेनिंग के बाद आपको नौकरी मिलने के चांस भी बढ़ जाते हैं. क्योंकि ट्रेनिंग के बाद आप बेरोजगार नहीं बल्कि स्किल प्राप्त हो जाएंगे।