देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार के जमुई से चुनावी शंखनाद कर दिया है। जमुई के खैरा में गरजते हुए पीएम मोदी ने विरोधियों पर चुन-चुनकर वार किया और साथ ही मोदी सरकारी की उपबल्धियों का बखान किया। इसके साथ ही उन्होंने अपने पुराने सहयोगी और परममित्र रामविलास पासवान को भी याद किया। इस दौरान उन्होंने कुछ ऐसा कहा कि सभी लोग इमोशनल हो गये।

रामविलास पासवान को यादकर हुए भावुक

जमुई के खैरा में प्रधानमंत्री ने रामविलास पासवान को याद करते हुए कहा कि इस मंच से हमसब को एक कमी महसूस हो रही है। हमारे लिए ये पहला ऐसा चुनाव है, जब बिहार के बेटे और मेरे परम मित्र रामविलास पासवान जी हमारे बीच नहीं हैं। वे पिछली बार भी मेरे साथ थे लेकिन इसबार नहीं, जो मुझे काफी कचोटता है। ये बातें बोलते वक्त पीएम मोदी भावुक दिखे और उनकी आंखों में आंसू भी आ गये।

इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने ये भी कहा कि मुझे संतोष है कि रामविलास पासवान जी के विचार को मेरा छोटा भाई चिराग पासवान पूरी गंभीरता से आगे बढ़ा रहा है। 19 अप्रैल को आप जो एनडीए को जो समर्थन देंगे, आप भाई अरुण भारती को एक-एक वोट देंगे, वो रामविलास पासवान के संकल्पों को मजबूती देगा। बिहार की धरती पूरे देश को दिशा दिखाने वाली है। बिहार की धरती ने आजादी की लड़ाई में बहुत बड़ी भूमिका निभायी है लेकिन बिहार के सामर्थ्य के साथ न्याय नहीं हो पाया है।

आरजेडी और कांग्रेस पर साधा तीखा निशाना

आरजेडी और कांग्रेस जैसी पार्टियां हैं तो अपनी सरकार के समय में पूरी दुनिया में देश का नाम खराब किया था और दूसरी तरफ एक एनडीए है, जिसका सपना है विकसित भारत का निर्माण, खुशहाल बिहार का निर्माण। कांग्रेस के वक्त भारत को कमजोर और गरीब देश माना जाता था। छोटे-छोटे देश जो आटे के लिए तरस रहे हैं, उनके आतंकी हमपर हमला कर चले जाते थे तब कांग्रेस की सरकार दूसरों के पास शिकायत लेकर जाती थी लेकिन हमने कहा कि ऐसे नहीं चलेगा। ये भारत महान पाटलिपुत्र वाला भारत है, आज का भारत घर में घुसकर मारता है। आज का भारत दुनिया को दिशा दिखाता है। अब दुनिया देख रही है कि केवल 10 वर्षों में भारत की साख कैसे बढ़ी है।