‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’ रथ  पहुंची भागलपुर, जाएगी विभिन्न पंचायतों में

केन्द्रीय योजनाओं के बारे में ग्रामीणों को दी जाएगी जानकारी

ड्रोन से खेती की नई तकनीक का दिखाया जायेगा गया डेमो

केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही जन कल्याणकारी योजनाओं को घर-घर तक पहुँचाने और उनका लाभ आमजनता तक सुनिश्चित कार्य जाने की महत्वपूर्ण ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा रथ’ शुक्रवार (01 दिसंबर, 2023) को भागलपुर पहुंची। रथ को भागलपुर के डीडीसी कुमार अनुराग ने हरी झंडी दिखाकर विभिन्न पंचायतों के लिए रवाना किया।

भागलपुर से रवानगी के बाद ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा रथ’ सुल्तानगंज के कमरगंज सहित आस-पास के गांव में घूमेगी। जहाँ, लोगों को आयुष्मान भारत, उज्ज्वला योजना, पीएम किसान योजना, मोटा अनाज तथा अन्य सरकारी योजनाओं की जानकारी चलचित्र और सम्बंधित अधिकारियों द्वारा दी जाएगी। साथ ही भारत सरकार की योजनाओं से वंचित लाभार्थियों को कार्यक्रम स्थल पर जानकारी और लाभ दिया जायेगा। मौके पर रथ के साथ आये अधिकारियों द्वारा ग्रामीणों और अन्य लोगों को भारत को 2047 तक आत्मनिर्भर और विकसित राष्ट्र बनाने, गुलामी की मानसिकता को जड़ से उखाड़ फेंकने, देश की समृद्ध विरासत पर गर्व करेंने, भारत की एकता को सुदृढ़ करेंने, देश की रक्षा करने वालो को सम्मान करने तथा नागरिक होने का कर्तव्य निभाने को लेकर शपथ दिलाई जाएगी। मौके पर चिकित्सा शिविर लगा कर लोगों का नि:शुल्क इलाज और मुफ्त दवा का वितरण किया जायेगा। साथ ही ड्रोन द्वारा खेती की नई तकनीक से खेती करने का डेमो दिखायी जाएगी।

‘विकसित भारत संकल्प यात्रा रथ’ का उद्देश्य है इसके मध्यम से केंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में ग्रामीणों को जानकारी देना। ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’, भारत सरकार की अब तक की सबसे व्यापक पहुंच वाली पहल है। समावेशी विकास के दृष्टिकोण पर आधारित इस यात्रा के माध्यम से यह सुनिश्चित करने का निरंतर प्रयास किया गया है कि सरकारी योजनाओं का लाभ देश के हर कोने में शत- प्रतिशत परिपूर्णता तक पहुंचे। यह यात्रा व्यापक स्तर पर पहुंच बनाने के साथ-साथ सूचना-प्रसार और देश के विकास में सक्रिय हितधारक बनने के लिए नागरिकों को सशक्त बनाने हेतु इस उद्देश्य को प्राप्त करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

विकसित भारत संकल्प यात्रा की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा जनजातीय गौरव दिवस के अवसर पर बुधवार (15 नवम्बर, 2023) को भगवान बिरसा मुंडा की जन्मस्थली खूंटी, झारखंड से की गयी थी। इसी कड़ी में बिहार के कैमूर में आईईसी ‘विकसित भारत संकल्प यात्रा रथ’ को बिहार के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर द्वारा झंडी दिखा कर रवाना किया गया था।