मंत्री विजय चौधरी के आवास पर आज शाम 5 बजे जेडीयू विधानमंडल की बैठक बुलाई गयी थी। जिसमें जेडीयू के 4 विधायक शाम 6 बजे तक शामिल नहीं हुए। ऐसे में कहा जा सकता है कि जेडीयू में सेंधमारी हो गया है। यूं कहे कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव का ऑपरेशन लालटेन सफल होता दिख रहा है।

जेडीयू की बैठक शाम 5 बजे शुरू हुई थी। जिसमें मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी शामिल होने पहुंचे थे। बैठक के एक घंटे बाद भी जेडीयू के 4 विधायक नहीं पहुंचे। इन विधायकों में तीन एमएलए ने अपना मोबाइल बंद कर रखा है। बीमा भारती, सुदर्शन और दिलीप राय बैठक में अभी तक नहीं पहुंचे हैं। बता दें कि कल के भोज में भी जेडीयू के 5 विधायक नहीं पहुंचे थे।

हालांकि जेडीयू विधायक नरेंद्र नारायण यादव ने साफ तौर पर कहा है कि 128 विधायक एनडीए के साथ हैं। जेडीयू के कोई विधायक गायब नहीं है। आज सब पहुंच रहे हैं कोई खेला नहीं होने वाला है। तेजस्वी को कहने दीजिए उनके कहने से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला। वही शालिनी मिश्रा ने कहा कि हम लोग कल बहुमत पेश करेंगे। दिल्ली गई हुई थी इसलिए कल के भोज में शामिल नहीं हो पाई। आज पटना में हैं तो आए हैं। कोई खेला नहीं होने वाला है। कल हमारी जीत होगी और विपक्ष की हार।

जेडीयू विधायक पंकज मिश्रा ने भी दावा किया कि खेला आरजेडी के साथ हो गया। आरजेडी के 20 विधायक बाहर चले गये हैं। बता दें कि सकरा से जदयू विधायक अशोक कल के भोज में नही पहुंचे थे। बिहारीगंज के जेडीयू विधायक निरंजन कुमार मेहता ने भी दावा किया कि कोई खेला नहीं होगा। सब पार्टी के लोग इधर-उधर हैं लेकिन जेडीयू के विधायक यही हैं। हमे अपने नेता पर पूरा भरोसा है और हमारे नेता को भी जेडीयू विधायक पर विश्वास है। समय पर सब लोग आ जाएंगे।